स्टालिन और दिनाकरण बना सकते हैं सरकार : सुब्रमण्यम स्वामी

स्टालिन और दिनाकरण बना सकते हैं सरकार : सुब्रमण्यम स्वामी

चेन्नई/नई दिल्ली। राज्यसभा सदस्य और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता सुब्रमण्यम स्वामी का मानना है कि अखिल भारतीय अन्ना द्रवि़ड मुनेत्र कषगम(अन्नाद्रमुक) के पन्नीरसेल्वम और पलानीस्वामी ध़डे के पास बहुमत न होने की स्थिति में अब द्रवि़ड मुनेत्र कषगम(द्रमुक) के स्टालिन और अलग-थलग कर दिए गए टीटीवी दिनाकरण अगले कुछ दिनों में गठबंधन सरकार बनाएंगे। स्वामी ने कहा, ’’स्टालिन के ९० विधायक हैं और दिनाकरण के समर्थन में २२ विधायक हैं। अगर हम मुस्लिम लीग, सीपीआई के विधायकों को जो़ड दें और साथ ही अगर पलानीस्वामी सरकार को गिराने की चाहत रखने वाली पार्टियां दिनाकरण के लिए वोट कर दें तो पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम के पास बहुमत के लिए ११७ का आंक़डा पूरा नहीं होगा।’’स्वामी ने कहा कि उनका मानना है कि दिनाकरण के विधायकों की संख्या ब़ढकर ३२ हो सकती है, क्योंकि कई विधायक उपचुनाव के पक्ष में नहीं हैं। दिनाकरण ने भी उपचुनाव न कराने का वादा किया है। स्वामी ने इस बात पर जोर दिया कि स्टालिन तमिलनाडु के मुख्यमंत्री बनेंगे और यह दिनाकरण पर है कि वह उप-मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं या पार्टी को बाहर से समर्थन देना चाहते हैं। उल्लेखनीय है कि २४ अगस्त को अन्नाद्रमुक के १९ विधायकों ने पार्टी से तब समर्थन वापस ले लिया था जब पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम ने विलय का फैसला लिया था। १९ विधायकों ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंप कर कहा था कि उनका मुख्यमंत्री में अब कोई भरोसा नहीं बचा है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News