भाजपा ने की मुख्यमंत्री सिद्दरामैया के इस्तीफे की मांग

भाजपा ने की मुख्यमंत्री सिद्दरामैया के इस्तीफे की मांग

बेंगलूरु। विपक्षी दल भाजपा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री सिद्दरामैया के इस्तीफे की मांग करते हुए पिछले वर्ष पुलिस अधिकारी डीएसपी एम के गणपति की विवादास्पद आत्महत्या में साक्ष्यों का कथित रूप से नष्ट करने का आरोप लगाते हुए मामले की सीबीआई जांच की मांग की। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बीएस येड्डीयुरप्पा ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि तत्कालीन डीएसपी गणपति की मौत के बाद सीआईडी द्वारा सरकार के दबाव में जांच की गई और मुख्यमंत्री के निकट सहयोगी और मंत्री केजे जॉर्ज को क्लीन चिट दी गई। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पुलिस अधिकारी की मौत के बाद आत्महत्या से संबंधित सबूतों को व्यवस्थित रूप से नष्ट कर दिया जिसमेंं मोबाइल फोन में मामले से संबंधित दस्तावेज और अधिकारी से संबंधित कंप्यूटर का नष्ट करना शामिल है। गौरतलब है कि जब गणपति ने आत्महत्या की थी तब जार्ज राज्य के गृहमंत्री थे। पिछले वर्ष ७ जुलाई को मडिकेरी के एक लॉज के कमरे में गणपति का शव फांसी पर लटका मिला था। आत्महत्या करने के पूर्व गणपति ने स्थानीय मीडिया को एक वीडियो संदेश में कहा था कि वे केजे जार्ज और आईपीएस अधिकारी प्रणोब मोहंती एवं एएम प्रसाद द्वारा किए जा रहे उत्पी़डन से परेशान होकर आत्महत्या कर रहे हैं। हालांकि मामले की जांच के बाद सीआईडी ने गणपति की आत्महत्या में तीनों की भूमिका नहीं बताई। येड्डीयुरप्पा ने सीआईडी जांच रिपोर्ट को सरकार के दबाव में सौंपी गई रिपोर्ट करार देते हुए कहा कि इस मामले में जिस प्रकार दस्तावेजों को नष्ट किया गया उससे साफ है कि इसके पीछे किसी ताकतवर का हाथ था। उन्हांेने कहा कि हम इस मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हैं। साथ ही येड्डीयुरप्पा ने केजे जार्ज के इस्तीफे की भी मांग की जो इस समय बेंगलूरु विकास मंत्री हैं। उन्होंने कहा कि जार्ज अगर पद नहीं छो़डते हैं तो सिद्दरामैया को उन्हें मंत्रिमंडल से निकाल देना चाहिए। पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी मांग की कि इस संदिग्ध प्रकरण में सबूतों को नष्ट करने में गृह मंत्री के सलाहकार कैम्पैया की संदिग्ध भूमिका की भी जांच की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रतिनिधिमंडल इस मुद्दे की सीबीआई जांच की जरूरत के आकलन के लिए शुक्रवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलेगा। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर मुख्यमंत्री सिद्दरामैया अपना पद नहीं छो़डते हैं और भाजपा की अन्य मांगों को पूरा नहीं किया जाता है, तो पार्टी राज्यव्यापी आंदोलन शुरू करेगी।गणपति आत्महत्या मामले में सबूतों को नष्ट करने से संबंधित एक अंग्रेजी टीवी चैनल की खबर का हवाला देते हुए येड्डीयुरप्पा ने कहा कि इस मामले में करीब १४५ वीडियो, ३१ ऑडियो टेप, २५५२ एमएस वर्ड फाइल, सैंक़डों ईमेल, ४५ से ५० के बीच कॉल विवरण को गणपति के मोबाइल और कम्प्यूटर से डिलीट किया गया है। इससे स्पष्ट होता है कि कोई बेहद प्रभुत्वशाली व्यक्ति सबूतों को नष्ट करने के पीछे था।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत में दूध उत्पादन में करीब 60 प्रतिशत वृद्धि हुई है
ईडी ने अरविंद केजरीवाल को नया समन जारी किया
सीबीआई ने सत्यपाल मलिक के परिसरों सहित 30 से अधिक स्थानों पर छापे मारे
निवेश पर उच्च रिटर्न का वादा कर एक शख्स से 1.19 करोड़ रु. ठगे
नशे की प्रवृत्ति पर लगाम जरूरी
कर्नाटक सरकार ने अधिवक्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी पर उप-निरीक्षक को निलंबित किया
'हार रहे उम्मीदवारों को जिताया' ... पाक के चुनावों में 'धांधली' के आरोपों पर क्या बोला अमेरिका?