भारी न पड़ जाए लापरवाही: पृथक् रखे जाने की मुहर दिखने पर ट्रेन से उतारा गया दंपति

भारी न पड़ जाए लापरवाही: पृथक् रखे जाने की मुहर दिखने पर ट्रेन से उतारा गया दंपति

नई दिल्ली/भाषा। दिल्ली आने वाली राजधानी एक्सप्रेस से एक दंपति को उस वक्त उतार दिया गया जब साथी यात्रियों ने पति के हाथ पर घर पर पृथक् रहने के लिए लगाई गई मुहर देखी। रेलवे ने यह जानकारी दी और कोरोना वायरस मामले बढ़ने के मद्देनजर साथी नागरिकों की सुरक्षा के लिए गैर-जरूरी यात्रा से बचने की लोगों से अपील की।

अधिकारियों ने बताया कि शनिवार सुबह दंपति सिकंदराबाद से बेंगलूरु-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में सवार हुआ था। रेलवे ने कहा कि ट्रेन जब सुबह करीब पौने दस बजे तेलंगाना के काजीपेट पहुंची तो एक सहयात्री ने उस वक्त शख्स के हाथ पर क्वारंटाइन (पृथक) के लिए लगी मुहर देखी जो अधिकारी संदिग्ध मरीजों के हाथों पर लगा रहे हैं।

उसने बताया कि इसके बाद अन्य सहयात्रियों ने इसकी जानकारी टीटीई को दी। अधिकारियों ने कहा कि ट्रेन को थोड़ी देर के लिए रोका गया और दंपति को अस्पताल ले जाया गया। काजीपेज में डिब्बे को पूरी तरह संक्रमण मुक्त किया गया और उसे बंद कर दिया गया। वातानुकूलन भी बंद कर दिया गया था। ट्रेन साढ़े 11 बजे अपने गंतव्य के लिये रवाना हो गई।

रेलवे ने दो अन्य घटनाओं की भी जानकारी दी जब यात्रियों ने घर में पृथक् रहने के लिए कहे गए लोगों को ट्रेन में सफर करते देखा। दो घटनाओं में जिन लोगों की जानकारी दी गई थी, उनमें से 12 बाद में जांच में संक्रमित पाए गए।

सामाजिक दूरी बनाए रखने की लोगों से अपील करते हुए रेलवे ने कहा कि उसे 16 मार्च को मुंबई से जबलपुर जा रही 11055 गोदान एक्सप्रेस के बी1 कोच में सफर करने वाले चार यात्रियों के शुक्रवार को कोविड-19 से संक्रमित होने की जानकारी मिली।

इसने ट्वीट कर बताया, वे पिछले हफ्ते दुबई से भारत लौटे थे। सभी संबंधित पक्षों को जरूरी कार्रवाई करने के लिए चौकन्ना कर दिया गया है। अन्य घटना में, दिल्ली से रामागुंडम जा रही आंध्र प्रदेश संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से 13 मार्च को सफर करने वाले आठ यात्रियों में शुक्रवार को संक्रमण की पुष्टि हई।

रेलवे ने अपील की, यात्रियों को साथी नागरिकों की सुरक्षा के लिए गैर-जरूरी यात्रा करने से बचने की सलाह दी जाती है।स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार सुबह भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 258 होने की जानकारी दी। हालांकि आईसीएमआर के मुताबिक, संदिग्ध मामलों में से और संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वाले 271 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List