शान से खड़ी ‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी’ का नजारा अंतरिक्ष से दिखता है ऐसा, तस्वीर वायरल

शान से खड़ी ‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी’ का नजारा अंतरिक्ष से दिखता है ऐसा, तस्वीर वायरल

statue of unity view from space

केवड़िया। सरदार पटेल की प्रतिमा ‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी’ अनावरण के बाद से लगातार चर्चा में है। पिछले दिनों खबर आई थी कि प्रतिमा देखने हजारों की तादाद में पर्यटक उमड़े जिसके बाद सड़क पर वाहनों की 10 किमी लंबी कतार लग गई। अब इस प्रतिमा की एक तस्वीर सोशल मीडिया में छाई हुई है।

स्टैच्यू आॅफ यूनिटी अंतरिक्ष से भी दिखाई देती है। वहां से खींची गई इसकी तस्वीर प्रतिमा की भव्यता को दर्शाती है। दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा की यह तस्वीर आॅब्लिक स्काईसैट ने 15 नवंबर को खींची थी। इसे प्लानेट लैब्स ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया जिसके बाद लोग इसे काफी शेयर कर रहे हैं।

स्टैच्यू आॅफ यूनिटी सरदार पटेल की महानता और दृढ़ निश्चय की प्रतीक है। 182 मीटर ऊंचाई वाली इस प्रतिमा का अनावरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 अक्टूबर को किया था। इसके बाद यहां लोगों की आवाजाही जारी है। सोशल मीडिया पर इस प्रतिमा की काफी तस्वीरें शेयर हुई हैं। लोगों ने यहां सेल्फी लेकर पूरी दुनिया में इस स्थान को मशहूर बनाने में योगदान दिया है।

इससे केवड़िया एक महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल के रूप में उभर रहा है। अब तक चीन के बारे में कहा जाता था कि उसकी विशाल दीवार अंतरिक्ष से भी दिखाई देती है। अब स्टैच्यू आॅफ यूनिटी का भी अंतरिक्ष से दीदार किया जा सकता है।

यह प्रतिमा एक मजबूत आधार पर खड़ी की गई है। इसके निर्माण में करीब 5,700 मीट्रिक टन स्टील का इस्तेमाल किया गया। इसे आकार देने में 22,500 मीट्रिक टन सीमेंट लगाया गया। इस प्रतिमा में 18,500 टन रॉड और 18.5 लाख किलोग्राम कांस्य लेप लगाया, ताकि यह हर मौसम का मुकाबला कर सके।

स्टैच्यू आॅफ यूनिटी 6.5 तीव्रता के भूकंप को आसानी से झेल सकती है। अगर यहां हवाओं की रफ्तार 180 किमी प्रतिघंटा तक जा पहुंचे तो भी प्रतिमा अडिग खड़ी रहेगी। छुट्टी के मौके पर यहां पर्यटक इतनी ज्यादा तादाद में पहुंच रहे हैं कि टिकट लेने के लिए लंबी कतार लग जाती है। भारत के अलावा विदेशों तक में इस प्रतिमा के चर्चे हैं।

ये भी पढ़िए:
– चीन के चक्रव्यूह को भारत देगा मात, रेल लाइन के जरिए सीधे दिल्ली से जुड़ेगा लद्दाख
– राजस्थान: विधानसभा चुनाव में दोनों दलों का खेल बिगाड़ने की तैयारी में जुटे बागी
– ‘बॉर्डर’ के असली नायक ब्रिगेडियर चांदपुरी का निधन, 1971 के युद्ध में दिखाया था अद्भुत पराक्रम
– ब्रिटिश अदालत ने तिहाड़ जेल को बताया सुरक्षित, खुल सकती है माल्या के प्रत्यर्पण की राह

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement

Latest News

खालिस्तान समर्थकों ने सैन फ्रांसिस्को में भारतीय वाणिज्य दूतावास में आग लगाने की कोशिश की खालिस्तान समर्थकों ने सैन फ्रांसिस्को में भारतीय वाणिज्य दूतावास में आग लगाने की कोशिश की
दूतावास में लगे सीसीटीवी में इस कृत्य के कुछ हिस्से कैद भी हो गए
कर्नाटक में 25 मार्च को होगा प्रधानमंत्री मोदी का साल का 7वां दौरा
चेन्नई मंडल 96 स्वचालित टिकट वेंडिंग मशीनें और शुरू करेगा
बैंक और ग्राहक सेवा
मोदी की पहल से 2047 तक ऊर्जा क्षेत्र में आत्मनिर्भर हो सकता है भारत: रिपोर्ट
केरल में वामपंथी, कांग्रेस नेता भारत के पक्ष में बयान देने वाले ईसाई नेताओं पर साध रहे निशाना: भाजपा
कर्नाटक: ‘आप’ ने विधानसभा चुनाव के लिए 80 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की