प्रज्ञा ठाकुर को संदिग्ध लिफाफे भेजने के मामले में महाराष्ट्र से डॉक्टर गिरफ्तार

प्रज्ञा ठाकुर को संदिग्ध लिफाफे भेजने के मामले में महाराष्ट्र से डॉक्टर गिरफ्तार

साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर

औरंगाबाद/भाषा। मध्य प्रदेश आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने भाजपा की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को कथित तौर पर संदिग्ध लिफाफे भेजने के मामले में महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले से एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी।

भोपाल लोकसभा क्षेत्र से सांसद ठाकुर ने सोमवार को भोपाल पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्हें किसी ने कुछ लिफाफे भेजे हैं, जिसमें जहरीला रासायनिक पदार्थ है। पुलिस ने ठाकुर के आवास से तीन-चार लिफाफे बरामद किए थे जिसमें से कुछ उर्दू में लिखे हुए हैं।

नांदेड़ के इतवारा पुलिस थाने के निरीक्षक प्रदीप ककाडे ने कहा कि जांच के दौरान मध्यप्रदेश एटीएस ने यह पाया कि नांदेड़ जिले के धानेगांव इलाके के डॉक्टर सैयद अब्दुल रहमान खान (35) ने ये संदिग्ध लिफाफे ठाकुर को भेजे हैं। खान इलाके में अपना क्लीनिक चलाता है।

उन्होंने बताया, मध्यप्रदेश एटीएस ने खान को बृहस्पतिवार को हिरासत में ले लिया। वह पिछले तीन माह से पुलिस के राडार पर था क्योंकि उसने पहले भी कुछ सरकारी अधिकारियों को पत्र लिखा था जिसमें उसने दावा किया था कि उसके मां और भाई के आतंकवादियों से संपर्क हैं और उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

उन्होंने बताया कि ऐसे पत्र लिखने के लिए खान को पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है। ककाड़े ने बताया, पुलिस उसके मोबाइल फोन की लोकेशन के जरिए उस पर नजर रख रही थी। लेकिन वह मोबाइल फोन घर पर ही छोड़कर इन पत्रों को डालने औरंगाबाद, नागपुर और अन्य स्थानों पर जाता था।

उन्होंने बताया कि खान का अपने भाई के साथ भी विवाद था और उसे भाई से मारपीट के कारण पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना
Photo: RailMinIndia FB page
विजयेंद्र बोले- ईश्वरप्पा को भाजपा से निष्कासित किया गया, क्योंकि वे ...
तुष्टीकरण और वोटबैंक की राजनीति कांग्रेस के डीएनए में हैं: मोदी
संदेशखाली में वोटबैंक के लिए ममता दीदी ने गरीब माताओं-बहनों पर अत्याचार होने दिया: शाह
इंडि गठबंधन पर नड्डा का प्रहार- परिवारवादी पार्टियां अपने परिवारों को बचाने में लगी हैं
'सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास डिफॉल्टरों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की शक्ति नहीं'
कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा सुनना भी गुनाह हो जाता है: मोदी