‘नीतीश दूध के धुले नहीं, भ्रष्टाचार पर उनका जीरो टॉलरेंस एक ढ़ोंग’

‘नीतीश दूध के धुले नहीं, भ्रष्टाचार पर उनका जीरो टॉलरेंस एक ढ़ोंग’

पटना। बिहार में सत्तारू़ढ महागठबंधन के दो ब़डे घटक दल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और जनता दल यूनाइटेड (जद-यू) की बैठक से पहले राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के करीबी पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने भ्रष्टाचार पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जीरो टॉलरेंस को ़ढोंग बताया और कहा कि वह दूध के धुले नहीं हैं और यदि भेद खुला तो सारे ग़डे मुर्दे को उखा़ड देंगे। तिवारी ने यहां राजद अध्यक्ष से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सिर्फ प्राथमिकी दर्ज होने से कोई दोषी नहीं हो जाता है। उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को इस्तीफा देने की कोई जरूरत नहीं है। यदि उनके खिलाफ कोई कार्रवाई होती है तो राजद के लोग इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने तल्ख लहजे में कहा कि मुख्यमंत्री के लोग बोल रहे हैं कि तेजस्वी यादव अपने ऊपर लगे आरोपों की सफाई दें। क्या नीतीश कुमार कोई कोर्ट हैं या केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उनको आउटसोर्स किया है? पूर्व सांसद ने कहा कि वहनीतीश कुमार को ४० सालों से जानते हैं। भ्रष्टाचार पर उनका जीरो टोलरेंस एक ढोंग है। उन्होंने कहा, नीतीश क्या दूध के धुले हैं? यदि भेद खुला तो सारे ग़डे मुर्दे उख़डेंगे।‘ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों के मुद्दे पर ‘महागठबंधन’’ के साथ मतभेदों का हवाला देते हुए बुधवार को इस्तीफा दे दिया। इससे पूर्व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने दो टूक शब्दों में कहा था कि उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव इस्तीफा नहीं देंगे और महागठबंधन की सरकार पांच वर्ष तक चलेगी लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को यदि बोझ लगता है तो वह समझें। राजद अध्यक्ष ने यहां उनके १० सर्कुलर रोड स्थित सरकारी आवास पर पार्टी विधानमंडल दल की हुई बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मुख्यमंत्री एवं महागठबंधन के नेता नीतीश कुमार ने उप मुख्यमंत्री यादव से इस्तीफा नहीं मांगा है। महागठबंधन मजबूती के साथ पांच वर्ष तक चलेगा लेकिन यदि नीतीश को बोझ लगता है तो वह समझें। ंडत्रर्‍ड्डर्ष्ठैं ·र्ैंर्‍ द्बय्ैंख् द्बर्‍्यठ्ठद्भय् ·र्ैंर्‍ ख्रष्ठद्मउप मुख्यमंत्री के इस्तीफा दिए जाने की जद-यू प्रवक्ताओं की ओर से की जा रही मांग पर राजद अध्यक्ष ने अपने चिरपरिचित लहजे में कहा, जद-यू कोई पुलिस नहीं है, मुझे और तेजस्वी को जहां बोलना होगा, वहां बोलेंगे। राजद अध्यक्ष ने उप मुख्यमंत्री के जनता के बीच जाकर लगे आरोपों पर सफाई देने से इनकार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कभी भी यादव से इस्तीफे के संबंध में कोई चर्चा नहीं की। महागठबंधन में कोई दरार नहीं है, यह सब मीडिया की देन है। उन्होंने कहा कि जद-यू और राजद पूरी तरह से एक साथ है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मुंह से लार टपक रहा है कि कैसे वह सत्ता में आए?यादव ने कहा कि अथक प्रयास से उन्होंने महागठबंधन बनाया है और नीतीश को मुख्यमंत्री के पद पर बैठाया है। नीतीश ने भी स्पष्ट कहा है कि पांच वर्ष के लिए जनादेश मिला है। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि महागठबंधन सरकार का कार्यकाल सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए राजद की ओर से किसी तरह की अ़डचन नहीं है। वहीं, राजद विधानमंडल दल की नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री राब़डी देवी ने भी दो टूक शब्दों में कह दिया कि किसी के कहने पर उप मुख्यमंत्री इस्तीफा नहीं देंगे।द्गद्धय्द्य द्धय्द्य फ्र्ड्डैंय्ंश्च द्मब्र्‍्र ख्ररूैंख्य्द्घइस बीच, उप मुख्यमंत्री ने उनके ऊपर लगे आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि उनसे अभी तक मुख्यमंत्री ने इस्तीफा नहीं मांगा है। इस मामले में वह बार-बार सफाई नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा गठबंधन तो़डने की साजिश कर रही है। उप मुख्यमंत्री ने कहा, हमारी पार्टी के अधिक (८०) विधायक होने के बावजूद हमने नीतीश को मुख्यमंत्री बनाया। हमने कभी भी शासन के कार्यों में हस्तक्षेप नहीं किया और न ही हमारी ओर से सरकार पर कोई दबाव बनाया गया। जद-यू प्रवक्ताओं की बयानबाजी के बावजूद हम चुप रहे। फ्रुप्रय्र्‍ध् द्बह्ख्रर्‍ ब्स्र फ्य्यज्प्रय् ·र्ष्ठैं फ्रूख़य्थ्य्द्य दृ त्रष्ठज्डप्र्‍उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि कोई भी अपने महागठबंधन की छवि को क्यों बिगा़डेगा? उन्होंने भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी को साजिश का सूत्रधार बताया और कहा कि वह स्वयं तो बिहारी नहीं हैं और प्रदेश की छवि खराब करने में लगे हैं।त्रष्ठज्डप्र्‍ द्बब्य्ख्ट्ठद्धैंथ्द्म ·र्ैंह् प्रय्यर्टैं झ्श्नख्रय्द्म ·र्ैंद्यत्रष्ठ द्यब्ष्ठ्रख्ष्ठ दृ द्यय्द्धठ्ठणक्कर्‍राजद अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी विधानमंडल दल की नेता राब़डी देवी की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि २८ जुलाई से शुरू हो रहे विधानमंडल के मॉनसून सत्र में राब़डी देवी और विधानसभा में विधायक दल के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में सक्रिय रहकर सरकार के हर कदम का समर्थन करते हुए महागठबंधन को शक्ति प्रदान कर जनहित के कार्यों में सहयोग करेंगे। बैठक में राजद अध्यक्ष यादव, पूर्व सांसद जगदानंद सिंह, प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे, महागठबंधन सरकार में राजद कोटे के सभी मंत्री, विधायक और विधान पार्षद मौजूद थे।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना
Photo: RailMinIndia FB page
विजयेंद्र बोले- ईश्वरप्पा को भाजपा से निष्कासित किया गया, क्योंकि वे ...
तुष्टीकरण और वोटबैंक की राजनीति कांग्रेस के डीएनए में हैं: मोदी
संदेशखाली में वोटबैंक के लिए ममता दीदी ने गरीब माताओं-बहनों पर अत्याचार होने दिया: शाह
इंडि गठबंधन पर नड्डा का प्रहार- परिवारवादी पार्टियां अपने परिवारों को बचाने में लगी हैं
'सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास डिफॉल्टरों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की शक्ति नहीं'
कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा सुनना भी गुनाह हो जाता है: मोदी