बीएसएनएल के पास निकट भविष्य में बड़े अवसर : सिन्हा

बीएसएनएल के पास निकट भविष्य में बड़े अवसर : सिन्हा

नई दिल्ली/भाषाकेंद्रीय दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा का कहना है कि बीएसएनएल को स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत १५० करो़ड रुपये का काम मिला है और उसके पास निकट भविष्य में कई ब़डे और बेहतर अवसर हैं। सिन्हा ने कहा कि इसके अलावा उसके पास नेटवर्क फॉर स्पेक्ट्रम (एनएफएस) और घरों तक ऑप्टिकल फाइबर पहुंचाने की परियोजना फाइबर टू द होम (एफटीटीएच) भी हैं्। इसका भी उसे लाभ मिलेगा। सिन्हा ने कहा , बीएसएनएल के पास मोबाइल टेलीफोनी के अलावा निकट भविष्य में और कई ब़डे अवसर मौजूद हैं्। २ जी , ३ जी और ४ जी सेवाओं के लिए कई निविदाओं को अंतिम रुप दिया जा चुका हे। बीएसएनएल की बाजार भागीदारी ७.६७ से ब़ढकर ९.४३७ हो गई जो सराहनीय है। स्मार्ट सिटी, एनएफएस और एफटीटीएच परियोजनाओं में बीएसएनएल बेहतर भागीदारी बना सकता है। स्मार्ट सिटी परियोजनाओं के तहत उसे १५० करो़ड रुपये का काम आवंटित किया गया है। यह उसे लाभ ही देगा। इसी तरह एनएफएस भी एक ब़ड़ी परियोजना है जिसमें बीएसएनएल रक्षा क्षेत्र के लिए ऑप्टिकल फाइबर आधारित संचार नेटवर्क विकसित कर रहा है। इस परियोजना का आकार करीब २३,००० करो़ड रुपये है। सिन्हा ने कहा, बीएसएनएल के क्षेत्रीय अधिकारियों को ग्राहक सेवाओं पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए और बीएसएनएल के बारे में नकारात्मक छवि को बदलने की कोशिश करनी चाहिए। दूरसंचार सचिव अरुणा सुंदरराजन ने भी बीएसएनएल के नवोन्मेष करने और आक्रामक रुप से आगे ब़ढने की जरुरत पर जोर दिया।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी