पैलेट गन की शिकार इंशा ने पास की दसवीं की परीक्षा

पैलेट गन की शिकार इंशा ने पास की दसवीं की परीक्षा

श्रीनगर। सुरक्षाबलों के पैलेट गन के हमले से १४ साल की उम्र में अपनी आंखें गंवाने वाली इंशा मुश्ताक को ब़डी कामयाबी मिली है। यह उसकी लगातार मेहनत का नतीजा ही है कि जम्मू कश्मीर बोर्ड के तहत दसवीं की परीक्षा में वह पास हो गई लेकिन एक क्लेरिकल गलती की वजह से उसके अंकों का कुल योग कम रह गया।दरअसल जम्मू कश्मीर बोर्ड के दसवीं के परिणाम मंगलवार को घोषित किए गए जिसमें कश्मीर के शोपियां जिले के एक सुदूर गांव की रहने वाली इंशा ने ४३ हजार स्टूडेंट्स के साथ यह परीक्षा उत्तीर्ण की। इंशा २०१६ ग्रीष्मकालीन प्रदर्शन के दौरान सुरक्षाबलों के पैलेट गन का शिकार हो गई थीं। इंशा उस वक्त अपने घर की खि़डकी से प्रदर्शनकारियों को देख रही थी तभी पैलेट गन की फायरिंग ने उसकी आंखों को हमेशा के लिए खराब कर दिया। पैलेट की वजह से इंशा की आंखों का रेटिना और ऑप्टिक नर्व नष्ट हो गया था। इसके बाद राज्य के टॉप आइ केयर अस्पताल में इलाज के बाद भी उसकी आंखें ठीक नहीं हो पाईं। बोर्ड एग्जाम रिजल्ट से इंशा खुश है लेकिन क्लेरिकल एरर के चलते वह थो़डी निराश भी है। उसने बताया, परिणाम में मुझे गणित के विषय में फेल बताया गया है जबकि यह मेरा चुना हुआ सब्जेक्ट नहीं था। इंशा ने बताया कि आंखों की दृष्टि चले की वजह से उसने संगीत विषय से प़ढाई की थी। इंशा अब गायन में पारंगता हासिल कर रही है। उसकी कामयाबी पर पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्विटर पर बधाई दी है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि बीजद के राज में न तो ओडिशा की संपदा सुरक्षित है और न ही सांस्कृतिक धरोहर ...
हेलीकॉप्टर हादसे में ईरान के राष्ट्रपति का निधन
आज लोकसभा चुनाव के 5वें चरण का मतदान, अब तक डाले गए इतने वोट
मंदिर: एक वरदान
उप्र: रैली को बिना संबोधित किए ही लौटे राहुल और अखिलेश, यह थी वजह
कांग्रेस-तृणकां एक ही सिक्के के दो पहलू, बंगाल में एक-दूसरे को गाली, दिल्ली में दोस्ती: मोदी
कांग्रेस-सपा ने अनुच्छेद-370 को 70 साल तक संभाल कर रखा, जिससे आतंकवाद बढ़ा: शाह