भगोड़ा विजय माल्या लंदन में गिरफ्तार, जमानत मंजूर

भगोड़ा विजय माल्या लंदन में गिरफ्तार, जमानत मंजूर

लंदन/ नई दिल्ली। अरबों रुपए के ऋण का गबन करने वाले भगो़डे शराब कारोबारी विजय माल्या को मंगलवार को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन कुछ ही घंटों में उसकी जमानत मंजूर कर ली गई। इसको लेकर प्रवर्तन निदेशालय ने मामला दर्ज कराया है। ब्रिटेन की क्राउन प्रोसक्यूशन सर्विस (सीपीएस) ने यह जानकारी दी। इसके तुरंत बाद माल्या को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत ने जमानत पर रिहा कर दिया। विवादों में घिरा ६१ वर्षीय व्यवसायी प्रत्यर्पण वारंट मामले में पहले से जमानत पर है। माल्या की पूर्व की जमानत की शर्तों पर ही रिहा किया गया है। माल्या को चार दिसंबर को अपने मुकदमे की सुनवाई के लिए अदालत में उपस्थित होना है।अदालत के बाहर बातचीत में माल्या ने कहा कि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया। माल्या ने अपने खिलाफ आरोपों को घेरने की साजिश बताया। माल्या ने कहा, मैंने किसी अदालत से बच नहीं रहा है। यदि कानूनी तौर पर यहां उपस्थित होना जरूरी है, तो मैं यहां मौजूद रहूंगा। मैंनेअपने मामले को साबित करने को कई प्रमाण दिए हैं।इस बीच, नई दिल्ली में सूत्रों ने बताया कि भारत सरकार ने माल्या के खिलाफ मनी लॉ्ड्रिरंग मामले में प्रत्यर्पण का अनुरोध किया है, उसी के आधार पर गिरफ्तारी की गई है। मामले की जांच प्रवर्तन निदेशलय (ईडी) कर रहा है। केंद्रीय जांच एजेंसी माल्या और अन्य के खिलाफ मुंबई की अदालत में आरोपपत्र दाखिल कर चुकी है। माल्या अपनी बंद प़डी कंपनी किंगिफशर के करीब ९,००० करो़ड रुपए के कर्ज नहीं चुकाने के मामले में भारत में वांछित है। वह पिछले साल मार्च में देश छो़डकर लंदन चले गए था।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह
शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने तय किया है कि एससी-एसटी-ओबीसी के आरक्षण को हम हाथ भी नहीं लगाने...
जैन मिशन अस्पताल द्वारा महिलाओं के लिए निःशुल्क सर्वाइकल कैंसर और स्तन जांच शिविर 17 जून तक
राजकोट: गुजरात उच्च न्यायालय ने अग्निकांड का स्वत: संज्ञान लिया, इसे मानव निर्मित आपदा बताया
इंडि गठबंधन वालों को देश 'अच्छी तरह' जान गया है: मोदी
चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर
दिल्ली: आवासीय इमारत में लगी भीषण आग, 3 लोगों की मौत
राजकोट: एसआईटी ने बैठक की, पीड़ितों की पहचान के लिए डीएनए नमूने लिए