मप्र: कांग्रेस विधायकों के इस्तीफों की मूल प्रति भाजपा नेता ने विधानसभा अध्यक्ष को सौंपी

मप्र: कांग्रेस विधायकों के इस्तीफों की मूल प्रति भाजपा नेता ने विधानसभा अध्यक्ष को सौंपी

भोपाल/भाषा। बेंगलूरु में ठहरे कांग्रेस के 19 बागी विधायकों के त्यागपत्रों की मूल प्रति भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति को सौंपी। विधायकों के इस्तीफों की मूल प्रति विशेष विमान से बेंगलूरु से यहां लाई गई। इस बीच, मध्यप्रदेश में अब तक कांग्रेस के 22 बागी विधायक अपने त्यागपत्र दे चुके हैं और प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार गिरने के कगार पर आ गई है।

इससे पहले सिंधिया खेमे के कांग्रेस के इन 19 बागी विधायकों ने अपने त्यागपत्र ई-मेल के जरिए मंगलवार को राजभवन (राज्यपाल निवास) भेजे थे। कांग्रेस के ये विधायक बेंगलूरु के एक रिसॉर्ट में रुके हुए हैं। ये त्यागपत्र लेकर बेंगलूरु से यहां आए भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने मीडिया की मौजूदगी में विधानसभा अध्यक्ष से कहा कि मध्यप्रदेश के कांग्रेस के माननीय 19 विधायकों ने विधानसभा से इस्तीफा दिया है। उन्होंने प्रजापति से कहा, विधायकों ने दिन में 12 से 2 बजे के बीच ईमेल से आप तक इस्तीफे भेजे हैं और अब इस्तीफों की मूल प्रति आपको भेजी है।

इसके बाद सिंह ने 19 विधायकों के नाम लेकर इन पत्रों पर विधायकों के हस्ताक्षर का दावा करते हुए इन इस्तीफों को विधानसभा अध्यक्ष को सौंप दिया। सिंह ने कहा, लोकतंत्र के मूल्यों की रक्षा हो सके। मध्यप्रदेश की जनता को अच्छी सरकार मिले। इस आग्रह से विधायकों के इस्तीफे सौंप रहे हैं।

इसके बाद सिंह ने दावा किया कि जल्द ही इस्तीफा देने वाले कांग्रेस विधायकों की संख्या बढ़कर 30 हो जाएगी। विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कहा, इस्तीफे दिए गए हैं। ऐसा आप सुन रहे हैं और मैंने भी सुना है। जो भी विधानसभा के नियमानुसार होगा तद्नुसार मैं इस पर कार्रवाई करूंगा।

भाजपा नेता भूपेन्द्र सिंह के जरिए बेंगलूरु से अपने इस्तीफे भेजने वाले छह मंत्रियों में तुसली सिलावट (सांवेर), गोविंद सिंह राजपूत (सुरखी), डॉ. प्रभुराम चौधरी (सांची), इमरती देवी (डबरा), प्रद्युम्न सिंह तोमर (ग्वालियर) और महेन्द्र सिंह सिसोदिया (बमोरी) शामिल हैं।

जबकि बेंगलूरु से त्यागपत्र भेजने वाले विधायकों में हरदीप सिंह डंग (सुवासरा), राज्यवर्धन सिंह (बदनावर), ब्रजेन्द्र सिंह यादव (मुंगावली), जसपाल जज्जी (अशोक नगर), सुरेश धाकड़ (पोहरी), जसवंत जाटव (करेरा), रक्षा संतराम सरोनिया (भांडेर), मुन्नालाल गोयल (ग्वालियर पूर्व), रणवीर जाटव (गोहद), ओपीएस भदौरिया (मेहगांव), कमलेश जाटव (अम्बाह), गिरिराज दंडोतिया (दिमनी) और रघुराज कंसाना (मुरैना) शामिल हैं। ये सभी विधायक बेंगलूरु के एक रिसॉर्ट में ठहरे हुए हैं।

जबकि कांग्रेस के तीन अन्य विधायकों बिसाहूलाल सिंह (अनूपपुर), एदल सिंह कंसाना (सुमावली) और मनोज चौधरी (हाटपिपल्या) ने भोपाल में इस्तीफा दिया। इससे पहले मंगलवार सुबह एक बड़े राजनीतिक घटनाक्रम के तहत प्रदेश के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिल्ली में कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। इस बीच, मध्यप्रदेश में कांग्रेस संगठन से सिंधिया समर्थकों का इस्तीफा देने का सिलसिला शुरू हो गया है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News