कोरोना वायरस: अरुणाचल प्रदेश में ग्रामीण, शहरी स्थानीय निकाय चुनावों पर रोक

कोरोना वायरस: अरुणाचल प्रदेश में ग्रामीण, शहरी स्थानीय निकाय चुनावों पर रोक

सांकेतिक चित्र

ईटानगर/भाषा। अरुणाचल प्रदेश के राज्य निर्वाचन आयोग ने कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के मद्देनजर नगर निकाय और पंचायत चुनावों पर अस्थायी रोक लगाने का फैसला किया है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

आयोग ने एलान किया था कि चुनाव इस साल अप्रैल-मई में होंगे लेकिन तारीखें तय नहीं हुई थीं। राज्य निर्वाचन आयुक्त हेग कोजीन ने कहा, ‘चुनाव कराने से बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होंगे, राज्य में विभिन्न स्थानों पर प्रचार अभियान चलाए जाएंगे और रैलियां निकाली जाएगी।’

उन्होंने कहा, ‘यह कोविड-19 फैलने की आशंका के चलते जन स्वास्थ्य के लिए खतरनाक और हानिकारक होगा।’ कोजीन ने कहा कि राज्य सरकार ने भी 16 मार्च को एक अधिसूचना जारी कर कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए पांच अप्रैल तक जनसभाओं पर रोक लगा दी है।

ईटानगर और पासीघाट नगर परिषदों के चुनाव के साथ पंचायत चुनाव मई 2018 से लंबित हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए राज्य सरकार ने स्कूलों, शैक्षणिक संस्थानों, सिनेमाघरों, नाइट क्लबों और साप्ताहिक बाजारों को पांच अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की है और लोगों से किसी भी सभा में जाने से बचने की अपील की है। राज्य में अभी तक कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा
नड्डा ने कहा कि लालू यादव, तेजस्वी और राहुल गांधी कहते थे कि भारत तो अनपढ़ देश है, गांव में...
राजकोट: गेमिंग जोन में आग मामले में अब तक पुलिस ने क्या कार्रवाई की?
पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह
जैन मिशन अस्पताल द्वारा महिलाओं के लिए निःशुल्क सर्वाइकल कैंसर और स्तन जांच शिविर 17 जून तक
राजकोट: गुजरात उच्च न्यायालय ने अग्निकांड का स्वत: संज्ञान लिया, इसे मानव निर्मित आपदा बताया
इंडि गठबंधन वालों को देश 'अच्छी तरह' जान गया है: मोदी
चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर