अजित पवार के लौटने का भरोसा था: रोहित पवार

अजित पवार के लौटने का भरोसा था: रोहित पवार

अजित पवार

मुंबई/भाषा। राकांपा विधायक रोहित पवार ने बुधवार को कहा कि उन्हें भरोसा था कि उनके चाचा अजित पवार पार्टी में लौट आएंगे और उन्हें खुशी है कि अजित पवार ने पार्टी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की। उन्होंने यह भी कहा कि पवार परिवार एकजुट है और हमेशा रहेगा।

अजित पवार ने मंगलवार देर रात अपने चाचा और राकांपा के दिग्गज नेता शरद पवार से मुलाकात की थी। अजित के महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा से हाथ मिलाने और फिर इस्तीफा देने के बाद यह शरद पवार से पहली मुलाकात थी।

शरद पवार के बड़े भाई अप्पासाहेब पवार के पोते रोहित पवार ने एक समाचार चैनल से कहा, मैं भरोसा नहीं कर पाया कि यह कैसे हुआ। एक कार्यकर्ता के तौर पर मुझे इसकी विस्तृत जानकारी नहीं है। परिवार के सदस्य के तौर पर कुछ कश्मकश थी, मैं समझ नहीं सका कि क्या हो रहा है।

उनसे पूछा गया था कि भाजपा के साथ हाथ मिलाने के बाद अजित पवार के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर उन्हें कैसा लगा था। रोहित पवार ने कहा, लेकिन हमें उनकी वापसी का पूरा यकीन था। हम दादा को बहुत अच्छी तरह जानते हैं।

अजित पवार की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि वह बहुत सक्षम प्रशासक हैं और शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस ‘महाराष्ट्र विकास अघाड़ी’ के लिए महत्वपूर्ण है जो राज्य में सरकार बनाएगी।

उन्होंने कहा, इसलिए मुझे लगा कि परिवार के सदस्य और राकांपा कार्यकर्ता के तौर पर जब दादा कल साहेब (शरद पवार) से मिले तो मुझे खुशी हुई। रोहित पवार ने भाजपा पर अन्य दलों से नेताओं की खरीद-फरोख्त का हथकंडा अपनाने का भी आरोप लगाया।

रोहित ने कहा, उन्होंने इस मामले में भी कुछ हद तक इस शैली (हथकंडे) का इस्तेमाल किया। दादा को यह पसंद नहीं आया होगा और फिर उन्होंने साहेब से मुलाकात की। मुझे उम्मीद है कि हम उनके (अजित पवार) मार्गदर्शन में जल्द ही लोगों की सेवा करेंगे।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने भ्रष्टाचार में पीएचडी कर ली: मोदी ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने भ्रष्टाचार में पीएचडी कर ली: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि अब कांग्रेस के साथ एक और 'भ्रष्टाचारी पार्टी' जुड़ गई है
मोदी का रॉक मेमोरियल दौरा: भाजपा बोली- 'विपक्ष घबराया हुआ, उसे हार का डर'
धरती की परवाह किसे?
'भारतीय भाषाएं और एक भाषायी क्षेत्र के रूप में भारत' विषय पर सम्मेलन का उद्घाटन किया
मैसूरु: दपरे महाप्रबंधक ने मैसूरु रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास कार्यों का निरीक्षण किया
राहुल गांधी 4 जून को ईवीएम पर ठीकरा फोड़ेंगे, 6 जून को छुट्टी मनाने थाईलैंड चले जाएंगे: शाह
प्रज्ज्वल मामला: सीएन अश्वत्थ नारायण बोले- इस एसआईटी से सच्चाई सामने लाने की उम्मीद नहीं