गडकरी ने बताया- जब यातायात नियम का उल्लंघन करने पर भरा जुर्माना

गडकरी ने बताया- जब यातायात नियम का उल्लंघन करने पर भरा जुर्माना

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

मुंबई/भाषा। संशोधित मोटर यान कानून के तहत यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माना लगाए जाने को लेकर जताई जा रही चिंताओं के बीच केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को कहा कि मुंबई में ‘बांद्रा…वर्ली सी लिंक’ पर अधिक गति के लिए उन पर भी जुर्माना लगाया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इच्छा भारत को एक आर्थिक महाशक्ति बनाना है। उन्होंने कहा, 100 दिन एक ट्रेलर है और पूरी फिल्म अगले पांच साल में सामने आएगी। उन्होंने कहा कि तीन तलाक को अपराध बनाना और संशोधित मोटर यान अधिनियम केंद्र सरकार की कुछ बड़ी उपलब्धियों में शामिल हैं।

गडकरी ने कहा, यहां तक कि ‘सी लिंक’ पर अधिक गति के लिए मैंने भी जुर्माना भरा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा पिछले महीने मंजूर किये गए मोटर यान संशोधन अधिनियम का उद्देश्य यातायात नियमों के उल्लंघन के लिए कठोर दंड का प्रावधान करना और सड़कों पर अनुशासन लाना है।

गडकरी ने कहा, मोटर यान संशोधन अधिनियम पारित करना हमारी सरकार की एक बड़ी उपलब्धि है। भारी जुर्माने से पारदर्शिता आएगी और इससे भ्रष्टाचार नहीं आएगा। मंत्री ने कहा कि भारत में अधिक संख्या में दुर्घटनाएं होने का कारण ऑटो इंजीनियरिंग के साथ-साथ सड़क इंजीनियरिंग भी है। उन्होंने कहा कि राज्य के विदर्भ क्षेत्र के छह जिलों को अगले पांच वर्षों में डीजल मुक्त बना दिया जाएगा और वाहन जैव ईंधन से चलेंगे।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

प्रधानमंत्री ने पूरे देश के सामने माना कि 'झूठे शराब घोटाले' में कोई सबूत नहीं हैं: केजरीवाल प्रधानमंत्री ने पूरे देश के सामने माना कि 'झूठे शराब घोटाले' में कोई सबूत नहीं हैं: केजरीवाल
Photo: @AamAadmiParty X account
उपमुख्यमंत्री और अन्य के खिलाफ आरोप लगाकर प्रज्ज्वल मामले को कमजोर कर रहे कुमारस्वामी: सिद्दरामैया
रईसी के हेलीकॉप्टर से नहीं मिले ये सबूत, जांच में हुए कई खुलासे
जहां गरीबी-संकट हों, नागरिक समस्याओं से घिरे हों ... कांग्रेस को ऐसा भारत पसंद है: मोदी
पाकिस्तान के खजाने पर बड़ी चोट, आतंकी हमले में मारे गए चीनियों के परिवारों को देगा इतना मुआवजा!
कर्नाटक: भाजपा ने सिद्दरामैया सरकार पर निशाना साधा, राजधानी को बताया- 'उड़ता बेंगलूरु'
प्रज्ज्वल रेवन्ना के नाम एचडी देवेगौड़ा के पत्र पर क्या बोले डीके शिवकुमार?