किसान के खेत भी तो सुरक्षित रखिए, यह भी राष्ट्रवाद है: प्रियंका वाड्रा

किसान के खेत भी तो सुरक्षित रखिए, यह भी राष्ट्रवाद है: प्रियंका वाड्रा

​​प्रियंका वाड्रा

रायबरेली (उप्र)/भाषा। पाकिस्तान से देश की सुरक्षा करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दावों की पृष्ठभूमि में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री से कहा कि वह किसान के खेत भी सुरक्षित रखें क्योंकि यह भी राष्ट्रवाद का ही हिस्सा है। प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री से सवाल किया कि सबसे बड़ा राष्ट्रवाद क्या होता है?

उन्होंने कहा कि यह देश जनता से बना है। उन्होंने कहा कि जनता से प्रेम का मतलब है, जनता का आदर। जनता के आदर का मतलब है, जब जनता कुछ कह रही है तो आप सुनिए। जनता की आवाज लोकतंत्र की आवाज होती है। यह कैसा राष्ट्रवाद है कि आप किसानों को नकारें, नौजवानों को नकारें, महिलाओं को नकारें।

प्रियंका ने कहा कि जहां जहां मैं जाती हूं लोग आवारा पशुओं की समस्याएं बताते हैं। अपने आपको देश का चौकीदार कहने वाले ने किसानों को खेत में बैठा दिया है चौकीदारी करने के लिए। किसानों के खेत की चौकीदारी कोई भाजपा का नेता नहीं करता है।

यहां थुलवासा में कांग्रेस प्रत्याशी और अपनी मां सोनिया गांधी के पक्ष में एक नुक्कड़ सभा में शुक्रवार को उन्होंने कहा, जब अपने अधिकारों के लिए प्रदर्शन करते है तो आज की सरकार आपकी आवाज को दबा देती है। ऐसा शिक्षकों और किसानों के साथ हो चुका है। क्यूं करती है यह सरकार ऐसा? क्योंकि वह आपकी शक्ति से डरती है। क्योंकि उन्हें मालूम है कि पांच सालों में उन्होंने जितने भी वचन किए थे एक भी वचन उन्होंने पूरा नहीं किया है। जनता के सवालों के जवाब नहीं हैं इनके पास। बड़े बड़े वायदे किए थे, बड़ी बड़ी उम्मीद बंधाई थी इन्होंने और बहुत भारी बहुमत से जीते थे। केंद्र सरकार इन्होंने बनाई, बहुत मजबूती से बनाई। लेकिन एक भी ऐसा कार्य नहीं किया जो जनता के हित में हो।

उन्होंने कहा कि इस सरकार ने केवल प्रचार ही प्रचार किया है। आप टीवी चलाते हैं उस पर प्रचार दिखता है, अखबार खोलते है उस पर उनका चेहरा दिखता है। आपको बताया जाता है पिछले पांच सालों में देश में जितना विकास हुआ है, वह आज तक नहीं हुआ। इनके भाषण में आधा भाषण विपक्षियों की आलोचना करने में होता है। कांग्रेस महासचिव ने मोदी को सवालों के कठघरे में ख़डा करते हुए कहा, राष्ट्रवादी सभी हैं। राष्ट्रवादी होने का क्या मतलब है? सबसे ब़डा राष्ट्रवाद क्या होता है? आप पाकिस्तान से सुरक्षित रख रहे हैं, यह बहुत ब़डी उपलब्धि है और यह बहुत अच्छा है। सब खुश है कि आप पाकिस्तान से सुरक्षित रख रहे हैं। लेकिन किसान के खेत भी सुरक्षित रखिए। सबसे बड़ा राष्ट्रवाद क्या होता है? जनता से बना है देश। जनता से प्रेम का मतलब है जनता का आदर। जनता के आदर का मतलब है जब जनता कुछ कह रही है तो आप सुनिए। जनता की आवाज लोकतंत्र की आवाज होती है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सत्ता में आने पर किसानों को मजबूत बनाने के लिए अलग बजट की व्यवस्था की जाएगी। इस बारे में पार्टी घोषणा पत्र में पहले ही बताया जा चुका है। प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने घोषणा की है कि अगर कांग्रेस की सरकार आएगी तो एक भी किसान कर्ज की वजह से जेल नहीं जाएगा। किसानों पर क्रिमिनल ला लागू नही होगा। यह बड़ी चीजें हैं जिनसे आपका विकास हो सकता है। कांग्रेस पार्टी की हमेशा यही विचारधारा रही है कि लोकतंत्र में सबसे बड़ी शक्ति जनता की होती है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

मोदी का रॉक मेमोरियल दौरा: भाजपा बोली- 'विपक्ष घबराया हुआ, उसे हार का डर' मोदी का रॉक मेमोरियल दौरा: भाजपा बोली- 'विपक्ष घबराया हुआ, उसे हार का डर'
कन्याकुमारी/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तमिलनाडु के कन्याकुमारी स्थित विवेकानंद रॉक मेमोरियल में ध्यान लगाने संबंधी कार्यक्रम को भाजपा...
धरती की परवाह किसे?
'भारतीय भाषाएं और एक भाषायी क्षेत्र के रूप में भारत' विषय पर सम्मेलन का उद्घाटन किया
मैसूरु: दपरे महाप्रबंधक ने मैसूरु रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास कार्यों का निरीक्षण किया
राहुल गांधी 4 जून को ईवीएम पर ठीकरा फोड़ेंगे, 6 जून को छुट्टी मनाने थाईलैंड चले जाएंगे: शाह
प्रज्ज्वल मामला: सीएन अश्वत्थ नारायण बोले- इस एसआईटी से सच्चाई सामने लाने की उम्मीद नहीं
तृणकां और इंडि जमात वाले बंगाल को विपरीत दिशा में लेकर जा रहे हैं: मोदी