‘महागठबंधन’ में सब ठीक, होली के बाद उम्मीदवारों की घोषणा: तेजस्वी

‘महागठबंधन’ में सब ठीक, होली के बाद उम्मीदवारों की घोषणा: तेजस्वी

तेजस्वी यादव

पटना/भाषा। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने बुधवार को कहा कि बिहार में विपक्षी पार्टियों का महागठबंधन बरकरार है और राज्य की सभी 40 सीटों के लिए इसके उम्मीदवारों की घोषणा होली के बाद की जाएगी।

तेजस्वी ने दिल्ली से पटना हवाईअड्डे पहुंचने के बाद संवाददाताओं को बताया, महागठबंधन में सब ठीक है। यह एकजुट एवं मजबूत है और हम चुनाव प्रचार में कड़ी टक्कर देंगे। सभी मतभेद सुलझा लिए गए हैं। हम होली के बाद अपने उम्मीदवारों की घोषणा करेंगे।

तेजस्वी सीटों के बंटवारे पर चर्चा के लिए पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में थे। उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले में शहीद हुए जवा‍नों के सम्मान में राजद होली नहीं मनाएगी। शरद यादव उम्मीदवारों की घोषणा को लेकर ज्यादा स्पष्ट दिखे और राष्ट्रीय राजधानी में उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि 22 मार्च को पटना में होने वाले संवाददाता सम्मेलन में उम्मीदवारों की घोषणा की जाएगी। उनकी पार्टी लोकतांत्रिक जनता दल (एलजेडी) भी महागठबंधन का हिस्सा है।

वहीं बिहार से कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने अपना नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि उनकी पार्टी के केवल नौ सीटों पर लड़ने वाली खबरें ‘शरारतपूर्ण’ हैं। उन्होंने कहा, हमारी राज्य चुनाव समिति ने पिछले हफ्ते पटना में बैठक की थी और मामले में अंतिम निर्णय लेने के लिए राहुल गांधी को अधिकृत किया था। सीटों की संख्या पर पार्टी के भीतर कोई बातचीत नहीं हुई है। मीडिया में आ रही खबरें महज अटकले हैं।

कांग्रेस कितनी सीटों पर लड़ेगी, यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा, शुरुआत में हम 15 सीट चाहते थे। बाद में हम इसे कम करने पर सहमत हुए, लेकिन मुझे नहीं लगता कि 11 से कम सीट राहुल गांधी को भी मंजूर होंगी।

वरिष्ठ नेता ने कहा, गांधी 23 मार्च को पूर्णिया में रैली के साथ बिहार में चुनाव प्रचार की शुरुआत करेंगे। ऐसी संभावना है कि कांग्रेस में आज शामिल हुए भाजपा सांसद उदय सिंह को वहां से कांग्रेस की टिकट पर उतारा जाएगा। यह भी लगभग तय है कि अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा को हमारी टिकट पर उनकी पटना साहिब सीट से उतारा जाएगा। भाजपा से उनका इस्तीफा और कांग्रेस में उनका प्रवेश कुछ दिनों में हो जाएगा।

दरभंगा सीट भी कांग्रेस एवं राजद के बीच झगड़े का कारण बनी हुई है। कांग्रेस कीर्ति आजाद को यहां से चुनावी मैदान में उतारना चाहती है जिन्होंने पांच साल पहले भाजपा की टिकट पर यह सीट जीती थी, वहीं राजद भी यह सीट चाहती है।

कांग्रेस नेता ने कहा, यह सीट राजद के मोहम्मद अली अशरफ फातमी का गढ़ मानी जाती है जो फिर से यहां से टिकट चाहते हैं। इसका भी हल निकालना है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा
नड्डा ने कहा कि लालू यादव, तेजस्वी और राहुल गांधी कहते थे कि भारत तो अनपढ़ देश है, गांव में...
राजकोट: गेमिंग जोन में आग मामले में अब तक पुलिस ने क्या कार्रवाई की?
पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह
जैन मिशन अस्पताल द्वारा महिलाओं के लिए निःशुल्क सर्वाइकल कैंसर और स्तन जांच शिविर 17 जून तक
राजकोट: गुजरात उच्च न्यायालय ने अग्निकांड का स्वत: संज्ञान लिया, इसे मानव निर्मित आपदा बताया
इंडि गठबंधन वालों को देश 'अच्छी तरह' जान गया है: मोदी
चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर