118.4 बिलियन डॉलर के साथ यह देश बना भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार

पिछले वित्तीय वर्ष में इस देश को भारत का निर्यात 8.7 प्रतिशत बढ़कर 16.67 बिलियन डॉलर हो गया

118.4 बिलियन डॉलर के साथ यह देश बना भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार

भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय व्यापार वर्ष 2023-24 में 118.3 बिलियन डॉलर रहा

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। आर्थिक थिंक टैंक जीटीआरआई के आंकड़ों के अनुसार, चीन वर्ष 2023-24 में 118.4 बिलियन अमेरिकी डॉलर के दोतरफा वाणिज्य के साथ भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार बनकर उभरा है।

भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय व्यापार वर्ष 2023-24 में 118.3 बिलियन अमेरिकी डॉलर रहा। वाशिंगटन वर्ष 2021-22 और वर्ष 2022-23 के दौरान नई दिल्ली का शीर्ष व्यापारिक भागीदार था।

आंकड़ों से पता चला कि पिछले वित्तीय वर्ष में चीन को भारत का निर्यात 8.7 प्रतिशत बढ़कर 16.67 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया। 

जिन मुख्य क्षेत्रों ने उस देश में निर्यात में अच्छी वृद्धि दर्ज की, उनमें लौह अयस्क, सूती धागा/कपड़े/मेडअप, हथकरघा, मसाले, फल और सब्जियां, प्लास्टिक और लिनोलियम शामिल हैं।

पड़ोसी देश से आयात 3.24 प्रतिशत बढ़कर 101.7 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया। दूसरी ओर, अमेरिका को निर्यात वर्ष 2023-24 में 1.32 प्रतिशत घटकर 77.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया, जबकि 2022-23 में यह 78.54 बिलियन अमेरिकी डॉलर था। वहीं, आयात लगभग 20 प्रतिशत घटकर 40.8 बिलियन अमेरिकी डॉलर रह गया। 

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी