आईटी कंपनियों के बारे में नीति बनाने को उत्सुक कर्नाटक सरकार : खरगे

आईटी कंपनियों के बारे में नीति बनाने को उत्सुक कर्नाटक सरकार : खरगे

बेंगलूरु। कर्नाटक सरकार सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र-आईटी में छंटनी समेत विभिन्न मुद्दों के समाधान के लिए एक नीति लाने को उत्सुक है लेकिन राज्य के आईटी मंत्री प्रियांक खरगे का कहना है कि वह इसे कंपनियों, उसके कर्मचारियों इत्यादि की समस्याओं को सुने बगैर नहीं लाएगी। इस नीति के माध्यम से सरकार कंपनियों द्वारा लोगों से ‘जबरन इस्तीफा’’ देने की समस्या को भी सुलझाना चाहती है।खरगे ने भाषा से कहा, ’’हम विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए एक नीति लाने को उत्सुक हैं। इसमें ‘जबरन इस्तीफा‘ देने की समस्या भी शामिल है। लेकिन हम इसे कंपनी नेतृत्व और कर्मचारियों की समस्याओं से अवगत होने से पहले नहीं लाएंगे।’’ उन्होंने कहा कि वह कंपनियों द्वारा वेतन वृद्धि प्रक्रिया में कथित ग़डब़डी के आरोपों को भी देखेंगे। वह केवल किसी एक हितधारक की बातों के आधार पर अपना दृष्टिकोण नहीं बना सकते। उन्हें सारी प्रणाली का ध्यान रखना है, क्योंकि वह इसके संरक्षक हैं, उनका काम ना सिर्फ नौकरियों को उपलब्ध कराना है बल्कि नौकरियों की सुरक्षा करना भी है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

बिल गेट्स को प्रतिष्ठित 'केआईएसएस मानवतावादी पुरस्कार' 2023 मिला बिल गेट्स को प्रतिष्ठित 'केआईएसएस मानवतावादी पुरस्कार' 2023 मिला
आभार प्रदर्शन भाषण में बिल गेट्स ने मान्यता के लिए आभार व्यक्त किया
केरल में इतनी सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी कांग्रेस!
हिप्र: 6 कांग्रेस विधायक 'अज्ञात स्थान' से शिमला लौटे, 15 भाजपा विधायक निलंबित
पाक समर्थक नारे का आरोप: सिद्दरामैया ने कहा- सच पाए जाने पर होगी कड़ी कार्रवाई
राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने वाले 6 कांग्रेस विधायक 'अज्ञात स्थान' पर गए!
प्रधानमंत्री ने नई परियोजनाओं का उद्घाटन किया, तमिलनाडु में नए इसरो लॉन्च कॉम्प्लेक्स की आधारशिला रखी
समुद्र: रहस्य की अद्भुत दुनिया