तिहाड़ जेल प्रशासन को जल्लाद उपलब्ध कराने को तैयार है उप्र का जेल विभाग

तिहाड़ जेल प्रशासन को जल्लाद उपलब्ध कराने को तैयार है उप्र का जेल विभाग

सांकेतिक चित्र

लखनऊ/भाषा। उत्तर प्रदेश जेल विभाग ने गुरुवार को कहा कि वह तिहाड़ जेल प्रशासन को अपराधियों को फांसी देने के लिए दो जल्लाद उपलब्ध कराने को तैयार है।

अपर पुलिस महानिदेशक (जेल) आनंद कुमार ने गुरुवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि तिहाड़ जेल ने पत्र के माध्यम से प्रदेश में जल्लादों की उपलब्धता पर सूचना मांगी थी। हमने उन्हें बता दिया है कि हमारे पास फांसी देने के लिए अधिकृत दो जल्लाद उपलब्ध हैं। तिहाड़ जेल को जब भी आवश्यकता होगी, उन्हें दोनों उपलब्ध करा दिए जाएंगे।

जेल विभाग को तिहाड़ जेल से नौ दिसंबर को फैक्स से एक पत्र मिला था। उसमें उत्तर प्रदेश के दो जल्लादों के बारे में जानकारी मांगी गई थी। हालांकि पत्र में यह नहीं लिखा था कि तिहाड़ जेल किसे फांसी देने के लिए इन जल्लादों को मांग रहा है।

ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि यह जल्लाद निर्भया सामूहिक बलात्कार के दोषियों को फांसी सजा देने के लिये मांगे जा रहे हैं लेकिन आधिकारिक स्तर पर इसकी पुष्टि नहीं हुई है। 2012 निर्भया बलात्कार कांड के चार आरोपी पवन गुप्ता, अक्षय ठाकुर, मुकेश सिंह और विजय ठाकुर पहले से ही तिहाड़ जेल में बंद हैं।

एडीजी जेल आनंद कुमार के अनुसार उप्र में लखनऊ व मेरठ जेल में दो जल्लाद हैं। तिहाड़ जेल प्रशासन की ओर से जब कोई तिथि निर्धारित की जाएगी, तब उन्हें जल्लाद उपलब्ध करा दिए जाएंगे। तिहाड़ जेल प्रशासन को लखनऊ व मेरठ जेल में दो जल्लाद उपलब्ध होने की सूचना दे दी गई है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने भ्रष्टाचार में पीएचडी कर ली: मोदी ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने भ्रष्टाचार में पीएचडी कर ली: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि अब कांग्रेस के साथ एक और 'भ्रष्टाचारी पार्टी' जुड़ गई है
मोदी का रॉक मेमोरियल दौरा: भाजपा बोली- 'विपक्ष घबराया हुआ, उसे हार का डर'
धरती की परवाह किसे?
'भारतीय भाषाएं और एक भाषायी क्षेत्र के रूप में भारत' विषय पर सम्मेलन का उद्घाटन किया
मैसूरु: दपरे महाप्रबंधक ने मैसूरु रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास कार्यों का निरीक्षण किया
राहुल गांधी 4 जून को ईवीएम पर ठीकरा फोड़ेंगे, 6 जून को छुट्टी मनाने थाईलैंड चले जाएंगे: शाह
प्रज्ज्वल मामला: सीएन अश्वत्थ नारायण बोले- इस एसआईटी से सच्चाई सामने लाने की उम्मीद नहीं