पांडियन का दावा- ओडिशा में बीजद सरकार बनने के बाद पहला आदेश यह जारी होगा

पांडियन ने मुख्यमंत्री के साथ अपनी बातचीत का एक संक्षिप्त वीडियो साझा करते हुए कहा ...

पांडियन का दावा- ओडिशा में बीजद सरकार बनने के बाद पहला आदेश यह जारी होगा

Photo: vkpandian.odisha Instagram account

भुवनेश्वर/दक्षिण भारत। बीजद के वरिष्ठ नेता और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के करीबी सहयोगी वीके पांडियन ने बुधवार को दावा किया कि पटनायक 9 जून को छठी बार शपथ लेंगे और उनका पहला आदेश ओडिशा की 90 प्रतिशत आबादी के लिए मुफ्त बिजली आपूर्ति होगा।

पांडियन ने देवगढ़ जिले के दौरे के दौरान मुख्यमंत्री के साथ अपनी बातचीत का एक संक्षिप्त वीडियो साझा करते हुए कहा, 'महाप्रभु (भगवान जगन्नाथ) और आप (लोगों) के आशीर्वाद से, हमारे पसंदीदा मुख्यमंत्री नवीन बाबू 9 जून को फिर से शपथ लेंगे।'

पांडियन ने कहा, '... और उनका पहला आदेश ओडिशा की 90 प्रतिशत आबादी के लिए मुफ्त बिजली आपूर्ति और (बीएसकेवाई) सरकारी कर्मचारियों सहित सभी के लिए बीजू स्वास्थ्य कल्याण योजना का विस्तार होगा।' 

पांडियन के यह कहने के बाद पटनायक ने फिर कहा, 'नवीन पटनायक की बिजली (शक्ति) की गारंटी और शंख चिह्न की गारंटी।'

पटनायक और पांडियन का यह लघु वीडियो राज्य भाजपा नेता समीर मोहंती द्वारा बीजद से मुफ्त बिजली आपूर्ति के वादे पर स्पष्टीकरण मांगने के बाद आया है।

यह आरोप लगाते हुए कि बीजद ने सभी के लिए मुफ्त बिजली आपूर्ति का 'झूठा' वादा करके लोगों को धोखा दिया है, मोहंती ने पूछा, 'बीजद को स्पष्ट करना चाहिए कि मुफ्त बिजली आपूर्ति के वादे से कितने लोग लाभान्वित होंगे?'

बीजद ने अपने चुनाव घोषणापत्र में हर महीने 100 यूनिट से कम खपत करने वाले सभी घरेलू परिवारों को मुफ्त बिजली देने का वादा किया है। 100-150 यूनिट तक खपत करने वाले परिवारों के लिए 50 यूनिट मुफ्त होंगी।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी