कर्नाटक सरकार ने स्नातक और डिप्लोमा धारकों को बेरोजगारी भत्ता देने की योजना शुरू की

मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ने 'युव निधि' योजना को प्रतीकात्मक रूप से शुरू करने के लिए छह लाभार्थियों को चेक सौंपे

कर्नाटक सरकार ने स्नातक और डिप्लोमा धारकों को बेरोजगारी भत्ता देने की योजना शुरू की

Photo: CMofKarnataka FB page

शिवमोग्गा/दक्षिण भारत। कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार को कांग्रेस पार्टी की पांचवीं 'गारंटी' योजना की शुरुआत कर दी। इसके तहत स्नातकों को 3,000 रुपए और डिप्लोमा धारकों को 1,500 रुपए का मासिक बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ने 'युव निधि' योजना को प्रतीकात्मक रूप से शुरू करने के लिए छह लाभार्थियों को चेक सौंपे। यह योजना उन स्नातकों और डिप्लोमा धारकों के लिए है, जो शैक्षणिक वर्ष 2022-23 में उत्तीर्ण हुए और अपनी शिक्षा पूरी होने के 180 दिन बाद भी बेरोजगार हैं।

भत्ता केवल दो वर्षों के लिए दिया जाएगा। यह लाभार्थी को नौकरी मिलने के तुरंत बाद समाप्त हो जाएगा। जिन लोगों ने उच्च शिक्षा और निरंतर अध्ययन के लिए नामांकन किया है, वे योजना के तहत पात्र नहीं हैं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News