लखनऊ। बुधवार को आए चुनाव नतीजों में उत्तरप्रदेश में की दो सीट गोरखपुर और फूलपुर में हुए लोकसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी ने अपनी जीत दर्ज कर सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी को चारों खाने चित्त कर दिया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उनकी कर्मभूमि गोरखपुर में पहली बार मिली क़डी शिकस्त की वजह से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का मजबूत किला बुधवार को ध्वस्त हो गया। पांच बार लगातार इसी सीट से सांसद रहे योगी के मुख्यमंत्रित्वकाल के एक वर्ष के अन्दर ही उन्हें इतनी बडी ’’राजनीतिक हार’’ मिली। योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे से खाली हुई गोरखपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव के नतीजे ने भाजपा को हिलाकर रख दिया। भाजपा उम्मीदवार उपेन्द्र शुक्ल को समाजवादी पार्टी (सपा) उम्मीदवार प्रवीण निषाद ने कडी पटखनी दी। निषाद ने अपने निकटतम प्रतिद्वन्दी शुक्ल को करीब २२ हजार मतों से हराया। समाजवादी पार्टी के नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल ने भारतीय जनता पार्टी के कौशलेंद्र सिंह पटेल को ५९,४६० मतों के अंतर से हराकर फूलपुर लोकसभा उपचुनाव जीत लिया। सपा ने मतगणना के प्रथम दौर से ही भाजपा पर ब़ढत बनाये रखी। यहां मुंडेरा मंडी में स्थित मतगणना स्थल पर बुधवार शाम अंतिम नतीजे घोषित किये गये। सपा उम्मीदवार नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल को ३,४२,९२२ मत मिले, जबकि भाजपा के कौशलेंद्र सिंह पटेल को २,८३,४६२ मत प्राप्त हुए। वहीं कांग्रेस के उम्मीदवार मनीष मिश्र को १९,३५३ मत मिले और वह चौथे स्थान पर रहे, जबकि बाहुबली नेता अतीक अहमद को कुल ४८,०९४ मत प्राप्त हुए।वहीं प़डोसी राज्य बिहार में अररिया से राजद प्रत्याशी सरफराज आलम विजयी रहे। अररिया लोकसभा क्षेत्र से मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के मो. सरफराज आलम निर्वाचित घोषित किये गये है। राज्य निर्वाचन कार्यालय सूत्रों ने बुधवार को यहां बताया कि अररिया लोकसभा क्षेत्र से राजद के मो. सरफराज आलम ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के प्रदीप कुमार सिंह को ६१७८८ मतों के अंतर से पराजित किया। आलम को ५०९३३४ और सिंह को ४४७५४६ मत प्राप्त हुए। राजद ने इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा।

LEAVE A REPLY