दक्षिण भारत न्यूज नेटवर्कबेंगलूरु। यहां देवनहल्ली स्थित सिद्धाचल स्थूलभद्र धाम में आचार्यश्री चन्द्रयशसूरीश्वरजी की ३६वीं संयम यात्रा की निमित्त आयोजित नव्वाणुं यात्रा के तहत संघपति मालारोपण का कार्यक्रम शुक्रवार को आयोजित होगा। यह कार्यक्रम आचार्यश्री व प्रवर्तकश्री कलापूर्णविजयजी की निश्रा में होगा जिसके प्रमुख संघपति राजेंद्रकुमार संजयकुमार गांधी परिवार हैं। गुरुवार को इसी क्रम में श्री नाको़डा पार्श्वनाथ १०८ तीर्थधाम विक्रम स्थूलभद्र विहार में १८ महाभिषेक का आयोजन उल्लासपूर्वक संपन्न हुआ। इससे पूर्व दक्षिण गिरिराज से देवनहल्ली की संघयात्रा निकाली गई, जो कि १०८ पार्श्वनाथ तीर्थधाम पहुंची। इस अवसर पर आचार्यश्री ने तीर्थ धाम के इतिहास के संस्मरणों को विस्तार से बतलाते हुए कहा कि देश के अनेक संघों व उदारमना-भामाशाहों के सहयोग से इस महातीर्थ का निर्माण हो रहा है। नव्वाणुं यात्रा के उपलक्ष्य में आराधना स्वरुप १२१ आराधकों ने दो उपवास पूर्वक सात यात्रा पूर्ण की। प्रतिदिन तीर्थ व्यवस्था के लिए २१ सदस्यीय कमेटी का गठन भी किया गया। इसमें विमल कर्नावट, जीगर शाह व हार्दिक मेहता की सेवाओं की सराहना की गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार को प्रातः १० बजे आयोजित होने वाले मालारोपण कार्यक्रम में भाग लेने के लिए शहर के गांधीनगर क्षेत्र से श्रद्धालुओं को लेजाने की व्यवस्थाएं की गई है। शुक्रवार को प्रातः ७.३० बजे से यहां गांधीनगर पेट्रोल पंप से बसों की रवानगी होगी।

LEAVE A REPLY