चेन्नई। भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के अधिकारियों ने बुधवार को चेन्नई स्थित अपने मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले एक वर्ष के दौरान दूसरी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों के काफी उपभोक्ताओं ने बेहतर दूरसंचार सेवाएं प्राप्त करने के लिए बीएसएनएल को अपनाया है। इसके साथ ही मौजूदा समय में बंद होने की कगार पर आ पहुंची एयरसेल कंपनी के हजारों उपभोक्ता भी अपना मोबाइल नंबर बीएसएनएल में पोर्ट करवाने के लिए आवेदन दे चुके हैं।बीएसएनएल के तमिलनाडु सर्कल के मुख्य महाप्रबंधक आर मार्शल एंटनी लियो ने कहा कि अप्रैल २०१७ से फरवरी २०१८ के बीच में १,६१,७४२ उपभोक्ताओं ने दूसरी कंपनियों को छो़डकर बीएसएनएल की सेवाएं लेने शुरु की है। उन्होंने बताया कि एक औसत के अनुसार हर महीने लगभग १.५० लाख उपभोक्ता राज्य में बीएसएनएल के साथ जु़ड रहे हैं। मोबाइल नंबर पोर्टबलिटी (एमएनपी) सुविधा के तहत बीएसएनएल दूसरी कंपनियों के उपभोक्ताओं को बीएसएनएन में अपनी सेवाएं स्थानांतरित करवाने की सेवा दे रहे हैं और इस वर्ष फरवरी महीने में १,८५,६६२ एयरसेल के उपभोक्ताओं ने बीएसएनएल के साथ अपना पंजीकरण करवाया है।लियो ने बताया कि जल्द ही बीएसएनल राज्य में ४ जी इंटरनेट सेवा दे रही निजी क्षेत्र की कंपनियों को चुनौती देने की तैयारी है। तमिलनाडु सर्कल के साथ ही बीएसएनएल के देश के १० सर्कलों मेंें ४ जी इंटरनेट सेवाएं देने की शुरुआत की जाएगी। यह सर्कल निगम के पश्चिम और दक्षिण क्षेत्र में स्थित हैं। जिन अन्य सर्कलों में निगम अपनी ४ जी इंटरनेट सेवाएं प्रारंभ करने वाला हैं उनमें महाराष्ट्र, गुजरात, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ, गोवा, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, केरल और तेलांगना शामिल हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में मौजूदा समय में निगम द्वारा दी जा रही ३ जी इंटरनेट सेवाओं का विस्तार करने की भी योजना है और इसके लिए केन्द्रीय दूरसंचार मंत्रालय से उपयुक्त अनुमति मिल गई है। उन्होंने बताया कि १४३ कस्बों और शहरों में जहां तक अभी भी बीएसएनल की ३जी सेवाएं उपलब्ध नहीं थी वहां पर यह सेवा शुुरु की जाएगी। लियो ने बताया कि इसके लिए २जी और ३जी कोर एवं रेडियो उपकरणों को लगाने का कार्य प्रगति पर है और यह सेवा इस वर्ष दिसंबर में शुरु की जाएगी।बीएसएनएल तमिलनाडु के वित्त विभाग के प्रधान महाप्रबंधक जी रवि ने बताया कि निगम द्वारा नेक्स्ट जेनरेशन नेटवर्क (एनजीएन) परियोजना का विस्तार करने पर भी ध्यान दिया जा रहा है। १२७ टेलीफोन एक्सचेंजों को उन्नत बनाकर एनजीएन एक्सचेंज में परिवर्तित किया गया है। इस पर ३८ करो़ड रुपए खर्च किए गए हैं। राज्य में निगम ने ५८ सार्वजनिक स्थानों पर वाई-फाई की सुविधा भी उपलब्ध करवाई है। बीएसएनएल तमिलनाडु के मुख्य जन संपर्क अधिकारी के राजशेखरन ने कहा कि राज्य में उपभोक्ताओं की सेवाओं का समाधान करने के लिए २३९ कस्टमेयर केयर सेंटर स्थापित किए गए हैं। इसके साथ ही यह विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की सुविधा उपलब्ध करवाने में राज्य में दूसरे स्थान पर है। इस अवसर पर बीएसएनएल के कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY