subramanian swamy
subramanian swamy

अगरतला। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस के बारे में सनसनीखेज दावे किए हैं। उन्होंने कहा है कि नेताजी की हत्या हुई थी और उसमें रूस के पूर्व राष्ट्रपति जोसेफ स्टालिन का हाथ था। स्वामी अगरतला में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कई दावे किए। स्वामी ने बताया कि नेताजी की मृत्यु 18 अगस्त, 1945 की कथित विमान दुर्घटना में नहीं हुई थी। ज्यादातर लोग ऐसा मानते हैं कि उस दिन नेताजी का देहांत हो गया लेकिन ऐसा नहीं है। वे उस समय जीवित थे।

स्वामी ने सांस्कृतिक गौरव संस्था के कार्यक्रम में कहा कि नेताजी ने रूस में शरण मांगी थी। बाद में वहीं उनकी हत्या कर दी गई। उनकी मृत्यु का विमान दुर्घटना से कोई संबंध नहीं है। स्वामी ने कहा ​​कि नेताजी की मृत्यु 1945 में नहीं हुई। उन्होंने इसे नेहरू और जापानियों की साजिश करार दिया।

स्वामी ने कहा कि रूस ने नेताजी को शरण दी थी। इस संबंध में जवाहर लाल नेहरू को पूरी जानकारी थी। बाद में रूस में ही नेताजी की हत्या कर दी गई। स्वामी ने भारत की स्वतंत्रता के आंदोलन में नेताजी की आज़ाद फौज की बड़ी भूमिका बताई। उन्होंने कहा कि नेताजी की आज़ाद हिंद फौज के कारण भारत को ब्रिटेन की औपनिवेशिक गुलामी से मुक्ति मिली।

स्वामी ने कश्मीर से संबंधित अनुच्छेद 370 का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि इसे राष्ट्रपति द्वारा मात्र एक अधिसूचना से हटाया जा सकता है। बता दें कि यह अनुच्छेद कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करता है। कश्मीर में कई अलगाववादी और राजनेता इसका पुरजोर समर्थन कर चुके हैं। स्वामी ने राम मंदिर निर्माण के लिए कहा कि अब आगे के रास्ते खुले हैं। स्वामी के ये दावे आज सोशल मीडिया में खूब सुर्खियां पा रहे हैं।

ये भी पढ़िए:
– संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाक पर जमकर बरसीं सुषमा स्वराज, बताया आतंक का आश्रयदाता
– लखनऊ गोलीकांड पर योगी आदित्यनाथ सख्त, अब एसआईटी करेगी मामले की जांच
– सर्जिकल स्ट्राइक: दो साल बाद पाक को फिर सख्त पैगाम- ‘चाहे सबक न सीखो, कार्रवाई रहेगी जारी’
– इराक की मशहूर फैशन मॉडल की गोली मारकर हत्या, हमलावर फरार

LEAVE A REPLY