गर्मी के मौसम में कई बार पैरों के तलवों में भी जलन महसूस होने लगती है। कभी-कभ्री ये जलन बहुत अधिक ब़ढ जाती है। इस समस्या को ‘पैरेसथीसिया‘ कहा जाता हैं। ये समस्या कम हो तो ठीक है, लेकिन यदि लंबे समय तक बनी रहे तो अपनाएं यहां बताए गए घरेलू उपाय।ृख्रद्य·र्ैंअदरक को कद्दूकस कर उसका रस निकाल लें। उस रस में थो़डा सा जैतून तेल या नारियल तेल मिलाकर गुनगुना कर लें। इस मिश्रण से रोज सोने से पहले अपनी एि़डयों और तलवों पर १० मिनट के लिए मालिश करें।द्ब€क्वद्ममक्खन और मिश्री को बराबर मात्रा में मिलाकर लगाने से हाथ और पैरों की जलन दूर हो जाती है।फ्द्यफ्ह्र त्रष्ठध्दो गिलास गर्म पानी में १ चम्मच सरसों का तेल मिलाकर रोजाना दोनों पैर इस पानी के अंदर रखें। ५ मिनट के बाद पैरों को किसी खुरदरी चीज से रग़डकर ठंडे पानी से धो लें, इससे पैर साफ रहते हैं और पैरों की गर्मी दूर होती है।द्मैंख्ष्ठ झ्य्ैंप् घ्ध्ष्ठ्ररोजाना सुबह या शाम के समय हरी घांस पर कुछ देर नंगे पांव चलने से पैरों मे जलन की समस्या नहीं होती है। साथ ही, पैरों का ब्लड सर्कुलेशन तेज हो जाता है।द्बष्ठब्ैंख्रर्‍मेहंदी में थो़डा सिरका या नींबू के रस को मिला कर पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को पैरों के तलवों पर लगाने से आराम मिलता है।थ्यद्मद्भय्सूखे धनिए और मिश्री को समान मात्रा में लेकर पीस लें। फिर इसको २ चम्मच की मात्रा में रोजाना ४ बार ठंडे पानी से लें। हाथ और पैरों के तलवों की जलन दूर हो जाएगी।ध्ह्र·र्ैंर्‍लौकी को कद्दूकस कर लें या फिर इसके गूदे को निकाल कर पैरों के तलवों में लगाएं। इससे पैरों की गर्मी और जलन दूर होती है।द्बध्य्ंश्चरात को सोते समय मलाई में कुछ बूंदें नींबू का रस मिलाकर तलवों की मालिश करें। सुबह पानी से धो लें। सा करने से पैरों के तलवों की जलन खत्म हो जाती है।

LEAVE A REPLY