चेन्नई। राजपुरोहित समाज जालोर बा़डमेर का होली स्नेह मिलन शुक्रवार को साहुकारपेट के एकाम्बेश्वर अग्रहारम् स्ट्रीट स्थित जैन भवन में आयोजित हुआ। इसमें एक सामाजिक सभा रखी गई। सभी उपस्थित जनों ने एक दूसरे को होली की बधाई दी एवं मिलजुलकर, सहयोग के साथ आगे ब़ढने की बात कही। सभा पूर्ण रुप से नशामुक्त रही तथा पिछले महीने राजपुरोहित समाज की राजधानी ब्रह्मधाम आसोतरा में गुरु श्री तुलसाराज महाराज ने समाज हित में जो नशा मुक्ति का समाज को पालन करने का प्रस्ताव किया था उसका समाज ने पूर्ण रुप से पालन किया। समाज की जाजम पर किसी भी प्रकार का व्यसन बी़डी, सिगरेट, तम्बाकू आदि कोई भी अन्य वस्तु नहीं होगी इस बात का पूरा ध्यान रखा गया। सभा के उपरांत महाप्रसादी का आयोजन किया गया। समाज के सदस्यों द्वारा गैर नृत्य का आयोजन किया गया। धुलंडी के मौके पर अबीर गुलाल लगाकर उमंग और उल्लास के साथ होली मनाई गई। खेतेश्वर भवन में नन्हे मुन्ने बच्चों की ढुंढ पूजन हुई। इस अवसर पर बच्चों को ढूंढा गया तथा महिलाओं द्वारा मंगलगीत गाकर ढोल की थाप पर जमकर लोगों एवं महिलाओं ने नृत्य किया।

LEAVE A REPLY