pm modi in vrindavan
pm modi in vrindavan

वृंदावन/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के वृंदावन में अक्षय पात्र फाउंडेशन के कार्यक्रम शिरकत की। इस मौके पर उन्होंने बच्चों को भोजन परोसा। अक्षय पात्र द्वारा यह कार्यक्रम भोजन की 3 अरबवीं थाली परोसने के उपलक्ष्य में आयोजित किया गया था। मोदी ने अपने हाथों से यह थाली परोस स्वच्छता और स्वस्थ बचपन का संदेश दिया।

मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार ने बचपन के आसपास मजबूत सुरक्षा घेरा बनाने का प्रयास किया है। इस सुरक्षा के तीन पहलू खानपान, टीकाकरण और स्वच्छता हैं। उन्होंने कहा कि इस बार कुंभ मेले ने देश को स्वच्छता का संदेश देने में सफलता पाई है। आमतौर पर कुंभ में नागा बाबाओं की चर्चा होती है। पहली बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने कुंभ की स्वच्छता को लेकर रिपोर्ट की है।

मोदी ने कहा कि हमने टीकाकरण अभियान को मिशन मोड में चलाने का फैसला किया। मिशन इंद्रधनुष से देश में लगभग 3 करोड़ 40 लाख बच्चों और 90 लाख गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया है। जिस गति से काम हुआ है, उससे तय है कि संपूर्ण टीकाकरण का हमारा लक्ष्य अब दूर नहीं है। उन्होंने कहा कि मिशन इंद्रधनुष को दुनियाभर में सराहा जा रहा है। पिछले दिनों एक मशहूर मेडिकल जनरल ने मिशन इंद्रधनुष को दुनिया के 12 बेस्ट प्रैक्टिसेज में चुना है।

मोदी ने कहा कि गौमाता के दूध का कर्ज इस देश के लोग नहीं चुका सकते हैं। गाय हमारी संस्कृति और परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। गाय ग्रामीण अर्थव्यवस्था का भी महत्वपूर्ण हिस्सा है। पशुपालकों की मदद के लिए अब बैंकों के दरवाजे खोल दिए गए हैं। अब बैंकों से 3 लाख रुपए तक का ऋण मिल सकता है। इससे हमारे तमाम पशुपालकों को लाभ मिलने वाला है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘मैं’ जब ‘हम’ बन जाता है तो सोच का दायरा बढ़ जाता है। कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल राम नाइक, विभिन्न साधु-संत और नागरिक मौजूद थे।

LEAVE A REPLY