मस्कट। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को यहां आयोजित भारत-ओमान व्यापार बैठक में खा़डी और पश्चिमी एशिया क्षेत्र के उद्यमियों के साथ मुलाकात की और भारत को व्यापार के लिहाज से अनुकूल स्थान के रूप में निवेशकों के सामने पेश किया।तीन देशों की यात्रा के अंतिम चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को यहां पहुंचे। उन्होंने आज ओमान के अंतरराष्ट्रीय संबंध एवं सहयोग मामलों के लिए उप प्रधानमंत्री सैयद असद बिन तारिक अल सईद से भी मुलाकात की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट में कहा, दोनों नेताओं ने पारस्परिक हित के क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग पर गंभीरता से चर्चा की।कुमार ने एक अन्य ट्वीट में कहा, चार दिन में चार देशों की यात्रा ने खा़डी देशों और पश्चिम एशिया में हमारी पैठ को मजबूत किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चौथा दिन मस्कट में भारत-ओमान व्यापार बैठक के साथ शुरू हुआ। मोदी ने बैठक में कारोबार के लिहाज से आकर्षक स्थान के रूप में भारत की वकालत की।इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मस्कट के ऐतिहासिक शिव मंदिर जाएंगे। यह इस क्षेत्र का सबसे पुराना मंदिर है और सुल्तान के महल के निकट मत्राह क्षेत्र में स्थित है। मंदिर का निर्माण १२५ साल पहले गुजरात के व्यापारी समुदाय द्वारा कराया गया था और बाद में १९९९ में इसका जीर्णोद्धार हुआ था। मंदिर में तीन देवता- श्री आदि मोतीश्वर महादेव, श्री मोतीश्वर महादेव और श्री हनुमानजी हैं। शुभ दिनों के दौरान १५,००० से अधिक श्रद्धालु यहां प्रार्थना के लिए आते हैं। दिल्ली आने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुल्तान कबूस ग्रैंड मस्जिद भी जाएंगे।

LEAVE A REPLY