पढ़िए उस ‘मौत की घाटी’ की कहानी जहां अपने आप चलने लगते हैं पत्थर!

0
171
Death Valley Secret
Death Valley Secret

इस जगह के पत्थरों की कहानी सबसे ज्यादा आश्चर्यजनक है। ऐसा दावा किया गया है कि बिना हिलाए ये अपने आप चलने लगते हैं। वे धीरे-धीरे एक जगह से दूसरी जगह की ओर गति करते रहते हैं।

कैलिफोर्निया। अमेरिका का नाम सुनते ही हमारे मन में एक ऐसे देश की तस्वीर उभरती है जो महाशक्ति है, बेहद अमीर है और रात को रोशनी से दमकता है। अमेरिका का परिचय सिर्फ इतना-सा नहीं है। यहां कई जगह ऐसी हैं जिनकी कहानियां आपको हैरान कर देंगी। इन्हीं में से एक है- मौत की घाटी। जी हां, आपने सही पढ़ा। यह जगह मौत की घाटी के नाम से ही पहचान बना चुकी है, क्योंकि अब तक यहां काफी लोगों की मौत हो चुकी है।

इस घाटी के बारे में प्रसिद्ध है कि यहां पत्थर अपने आप चलने लगते हैं। चाहे वह छोटा हो या बहुत भारी। ये सब कहानियां इंटरनेट पर काफी मशहूर हैं और लोग उन्हें खूब पढ़ते हैं। कई लोग तो इसी वजह से अमेरिका जाते हैं ताकि वे अपनी आंखों से वह सब देख सकें, जिसके बारे में अब तक सुनते आए हैं।

इंटरनेट पर डैथ वैली नाम से इसकी काफी तस्वीरें हैं। यह जगह उत्तरी अमेरिका में कैलिफोर्निया के दक्षिण-पूर्व में नेवाडा स्टेट की सरहद के पास स्थित है। यह महज कुछ सौ मीटर तक सीमित नहीं है। इसकी लंबाई करीब 225 किमी है। यहां का मौसम बहुत ही गर्म है। यह बहुत सूखी जगह है।

पानी की कमी होने के कारण पुराने जमाने में जब लोग यहां से गुजरते तो वे प्यास के कारण मर जाते। कई दिनों तक उन्हें कोई संभालने नहीं आता। ऐसे लोगों के कंकाल बाद में मिलते। इस वजह से यह जगह डैथ वैली के नाम से जानी गई। इस रास्ते का इस्तेमाल प्राय: वे लोग करते थे जो कैलिफोर्निया के स्वर्ण भंडारों में खुदाई के लिए जाते।

इस जगह के पत्थरों की कहानी सबसे ज्यादा आश्चर्यजनक है। ऐसा दावा किया गया है कि बिना हिलाए ये अपने आप चलने लगते हैं। वे धीरे-धीरे एक जगह से दूसरी जगह की ओर गति करते रहते हैं। इस वजह से वैज्ञानिकों की इसमें रुचि पैदा हुई। उनके मुताबिक, बहुत ज्यादा तापमान, धरातल की खास बनावट, तेज हवाओं और भूगर्भ की हलचल के कारण ये पत्थर गति करने लगते हैं। वजह जो भी हो, डैथ वैली अब लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बन चुकी है।

ये भी पढ़िए:
– 37 हजार फीट की ऊंचाई पर विमान में हुई पायलटों के बीच हाथापाई, 157 यात्रियों की जान अटकी
– असम में कौन हैं वो 40 लाख लोग जिन पर छाया भारत से निकाले जाने का खतरा?
– गलत नीतियों से बर्बाद हुआ यह अमीर देश, यहां वकील भी कर रहे दूसरों के घरों में झाड़ू-पोछा

Facebook Comments

LEAVE A REPLY