मैसूरु/दक्षिण भारत कर्नाटक विधानसभा की २२२ सीटों के लिए आज हुये मतदान के दौरान विशेष रूप से गठित मतदान केंद्रों पर ५०० से अधिक आदिवासी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। चुनाव आयोग ने आदिवासी मतदाताओं को आकर्षित करने के लिये हुंसुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के नगारा आदिवासी इलाके में स्थित नागरहोले बाघ अभयारण्य में विशेष और अनोखे मतदान केंद्र बनाये थे। राज्य में पहली बार आयोग ने इस तरह की पहल की है। इस इलाके में मतदाता सूची में कुल ८६० आदिवासियों के नाम दर्ज हैं। पारंपरिक मैसूरु पेटा, धोती और सफेद सर्ट पहने चुनाव कर्मियों ने आदिवासी मतदाताओं का स्वागत पेय पिलाकर किया। मतदान करने आए सभी मतदाताओं को पौधे भेंट किए। आदिवासी मतदाताओं ने इस प्रकार के आवभगत को लेकर प्रसन्नता व्यक्त की। इस बीच, जिला प्रशासन ने मैसूरु जिले के केआर नगर विधानसभा क्षेत्र में भी ’’मॉडल’’ मतदान केंद्रों के जरिये एक अन्य प्रकार का प्रयोग किया। इन केंद्रों पर भी मतदान करने वाले मतदाताओं को भी पौधे भेंट किये गये।

LEAVE A REPLY