चेन्नई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को तमिलनाडु की दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की ७०वीं जयंती के मौके पर कामकाजी महिलाओं के लिए रियायती दर पर स्कूटर योजना की शुरुआत की। इस मौके पर आयोजित कार्यक्रम में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम समेत कई गणमान्य लोग उपस्थित थे। मोदी द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत कामकाजी महिलाओं को दो पहिया वाहन की खरीद पर ५० फीसद रियायत दी जाएगी और इसकी अधिकतम सीमा २५ हजार रुपए होगी। उन्होंने इस योजना का लाभ हासिल करने वाली पांच महिलाओं को चाबी और पंजीकरण प्रमाणपत्र की प्रति सौंपी। उन्होंने जयललिता की ७०वीं जयंती समारोह के मौके पर ७० लाख पौधरोपण अभियान की भी शुरुआत की। उन्होंने कहा कि ये दोनों अभियान महिला सशक्तिकरण और प्रकृति के संरक्षण की दिशा में अहम कदम साबित होंगे।उन्होंने कहा, जब हम परिवार में महिलाओं को सशक्त करते हैं तो हम पूरे घर को सशक्त बनाते हैं। जब हम महिलाओं को शिक्षित बनाते हैं तो हम यह सुनिश्चित करते हैं कि पूरा परिवार शिक्षित है। उनकी अच्छी सेहत पूरे परिवार को स्वस्थ रखती है। उन्होंने कहा, जब हम उसका भविष्य सुरक्षित रखते हैं तो हम पूरे घर का भविष्य सुरक्षित करते हैं। इस मौके पर पलानीस्वामी ने अपने संबोधन में मोदी से अनुरोध किया कि वह कावेरी प्रबंधन बोर्ड और कावेरी जल नियामक समिति का गठन करें जैसा कि उच्चतम न्यायालय द्वारा निर्देशित किया गया था। सत्तारू़ढ अन्नाद्रमुक के मुताबिक कि अब तक ३,३६,१०३ महिलाओं ने इस योजना के तहत आवेदन किया है जिनकी जांच की जा रही है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY