नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संविधान निर्माता बी आर अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर बुधवार को उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इन नेताओं ने संसद भवन परिसर में अंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की जिन्होंने दलितों के उत्थान के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया था। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और थावरचंद गहलोत तथा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खरगे ने भी अंबेडकर के प्रति सम्मान प्रकट किया । दलितों के उत्थान के लिए लगातार काम करने वाले बाबासाहेब अंबेडकर ने वर्ष १९५६ में आज ही के दिन देह त्याग किया था । प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया है, ‘मैं डॉक्टर बाबासाहेब अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर उन्हें नमन करता हूं। ’’ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने संविधान निर्माता बी आर अंबेडकर की पुण्यतिथि पर बुधवार को उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि व्यक्ति नश्वर हो सकते हैं, लेकिन उनके विचारों को फैलाने की आवश्यकता है। कांग्रेस अध्यक्ष का पद संभालने के लिए तैयार नजर आ रहे गांधी ने ट्विटर पर अंबेडकर को श्रद्धांजलि दी और दलितों के उत्थान के लिए बाबासाहेब के योगदान की सराहना की। राहुल ने कहा, ‘व्यक्ति नश्वर होते हैं। विचार रह जाते हैं। किसी विचार का प्रसार करना उसी तरह ़जरूरी है जिस तरह पौधे को पानी की जरूरत होती है। नहीं तो दोनों सूख जाएंगे और मर जाएंगे। महापरिनिर्वाण दिवस पर बाबा साहेब अंबेडकर को मेरी श्रद्धांजलि।’’

Facebook Comments

LEAVE A REPLY