मथुरा। अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि भारत में रहने वाले मुसलमान बाबर के वंशज नहीं है। सिंह ने रविवार देर शाम पत्रकारों से कहा कि भारत में रहने वाला मुसलमान किसी विदेशी का नहीं, बल्कि राम का वंशज है। उन्होंने तर्क दिया, हमारे पूर्वज एक हैं भले ही पूजा पद्धति अलग हो। अगर मैं मुस्लिम धर्म अपना लूं तो क्या सौ साल बाद मेरे पूर्वज और मेरे भाई के पूर्वज अलग होंगे? यहां रहने वाले मुसलमानों की स्थिति भी वही है। उन्होंने मुसलमानों से अपील की हिंदू और मुसलमान दोनों मिलकर राम मंदिर बनाएं। हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर तंज कसते हुए उन्होंने प्रश्न किया कि क्या पाकिस्तान में राम मंदिर बनेगा? ओवैसी जैसे लोग देश को बांटना चाहते हैं। ओवैसी जैसों के दिल में जिन्ना का जिन्न प्रवेश कर गया है, इसलिए वे देश को तो़डना चाहते हैं। उन्होंने कहा वह अदालत का सम्मान करते हैं तथा उसके निर्णय का स्वागत करते हैं। एक मुस्लिम संगठन ने मंदिर बनने के रास्ते को साफ किया है। उन्होंने सुन्नी भाइयों से भी अनुरोध किया कि वे राम मंदिर निर्माण में सहयोग करें।हरियाणा सरकार द्वारा सभी स्कूलों में गायत्री मंत्र लागू किए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सनातन धर्म में विज्ञान ज्ञान और मंत्र का समायोजन आवश्यक है। भारत की संस्कृति के बगैर शिक्षा अधूरी है अभी जो शिक्षा दी जा रही है उसमें केवल पैकेज की बात होती है। उन्होंने कहा, शिक्षा में अगर संस्कार और संस्कृति न हो तो शिक्षा बेकार है शिक्षा में केवल शिक्षा नहीं बल्कि संस्कार और संस्कृति का समायोजन होना चाहिए।

LEAVE A REPLY