सा की यह तो हम सभी जानते है की ये दुनिया बहुत ब़डी है और इसमें आये दिन कुछ न कुछ नया सुनने व प़ढने को मिलता है। आज हम आपको ऐसी खबर के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में प़ढकर आपको हैरानी जरूर होगी। ..जी हाँ, महिलाओं को शारीरिक रूप से कमजोर समझने वालों को आइना दिखाते हुए केरल के एक गांव की ३०० महिलाओं ने अपने दम पर कुएं खोद दिए। महिलाओं ने एक, २-३ नहीं बल्कि १९० कुएं खोद कर और लंबे समय से चल रही पानी की समस्या का हल खोज निकाला। इस युवा महिलाओं ने ही हिस्सा नहीं लिया, उम्रदराज महिलाओं ने भी गड्ढे में उतरकर कुदाल और फाव़डे से खुदाई की। केरल के पलक्क़ड जिले के एक गांव की इन महिलाओं ने इस दौरान तकलीफें सहीं, लेकिन संकल्प से पीछे नहीं हटीं। ३५ से ७० साल की इन महिलाओं ने सूखे से जूझ रहे अपने गांव में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत पिछले अगस्त से अब तक १९० कुएं खोद लिए हैं। उल्लेखनीय है कि गांव में केवल कुएं और छोटे तालाब ही पानी का जरिया हैं। प्रशिक्षण का अभाव और शारीरिक सीमाएं भी इन महिलाओं की राह का रो़डा नहीं बन सकीं।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY