पैसे वाले परिवार पर कब होगी चर्चा : अखिलेश

0
110

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किसी का नाम लिये बिना भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए कहा कि राजनीतिक परिवारों पर चर्चा करने वाले पैसे वाले परिवारों पर कब चर्चा करेंगे।

यादव गुरुवार को यहां पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश में परिवार के झगड़े की चर्चा होती रहती है, लेकिन पैसे वाले राजनीतिकों की चर्चा कब की जायेगी। 50 हज़ार रुपये लेकर वह भी निकलने को तैयार हैं, लेकिन ये कैसे करोड़ों होंगे। इसके बारे में कोई उन्हे भी बता दे।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी के पास वोट है इसलिये उनके कार्यकर्ताओं पर हमला बोला जाता है। उन्होंने कहा कि सपा संरक्षण और उनके पिता ने लोहिया पार्क पहुंचकर उन्हें आर्शीवाद दिया।

उन्होंने कहा कि देश समाजवाद के रास्ते पर चलकर ही तरक्की कर सकता है। उनके कार्यकाल में प्रदेश में एम्स खोलने के लिये रायबरेली में जमीन उपलब्ध करायी। कन्नौज में बनने वाला सैनिक स्कूल झांसी को दिया और मैनपुरी के लिये एक स्कूल स्वीकृत किया।

यादव ने कहा कि कुछ लोग जाति और धर्म की आड़ में सत्ता की लड़ाई लड़ रहे है। लोगों को विकास चाहिए। बहुत दिनों तक लोग बहकावे में आने वाले नही हैं। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से भ्रष्टाचार खत्म नहीं हुआ। देश का आर्थिक विकास रूक गया। लोगों से उनका रोजगार छिन गया।

उन्होंने कहा वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) को बिना तैयारी किये लागू कर दिया, जिससे देश पिछड़ गया है। आर्थिक विकास रूक गया है। सरकार के पास कोई नयी योजना नहीं है। पुरानी योजनाओं को नया नाम देकर चला रही है। सपा सरकार ने लोहिया ग्रामीण बस सेवा चलायी थी। भाजपा सरकार ने 50 बसों को भगवा रंगो में रंगकर संकल्प बस सेवा शुरू की है। इसके लिये कोई टेन्डर नहीं दिया गया। नई बसें कहा से आ गयीं।

यादव ने कहा कि सरकार गुजरात चुनाव की वजह से बैकफुट पर आ गयी है। भाजपा सरकार हमारे लगाये शिलान्यास या उद्घाटन किये गये पत्थरों को हटाएगी तो इस सरकार को जनता हटा देगी।

उन्होंने कहा कि गंगा साफ करने का नारा भाजपा ने दिया था। आज तक साफ नहीं हुई। सपा सरकार ने गोमती नदी को साफ करके दिखाया है। जो रोमियो पकड़े गए, वे भाजपा के लोग थे।

LEAVE A REPLY