मुंबई। माफिया डॉन अबू सलेम दूसरी शादी करना चाहता है लेकिन न्यायालय ने उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। उसने पैरोल के लिए मुंबई उच्च न्यायालय में याचिका दी थी लेकिन न्यायालय ने याचिका खारिज कर दी है। अबू सलेम 45 दिनों की पैरोल चाहता था। वह इसके लिए आवेदन करता रहा है, पर सुरक्षा कारणों के मद्देनजर उसकी मांग ठुकरा दी गई। सलेम इस संबंध में अब तक तीन बार याचिका दायर कर चुका है, जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया।

पूर्व में जब उसकी याचिका खारिज हो गई तो उसने मुंबई उच्च न्यायालय का रुख किया। यहां वह तलोजा जेल प्राधिकरण के फैसले को बदलवाना चाहता था। सलेम की वकील फरहाना शाह ने उसके पक्ष में कई तर्क दिए। उन्होंने कहा कि कोंकण के डिविजनल ​कमिश्नर और अपीलीय अधिकारियों ने अनायास ही सलेम की याचिका खारिज की है। सभी दलील देने के बाद यहां भी अबू सलेम को निराशा ही मिली।

सलेम इस साल फरवरी में पैरोल के लिए तलोजा जेल प्राधिकरण को प्रार्थना पत्र दे चुका है। उसका कहना है कि वह मुंबई में रहने वाली एक युवती से शादी करना चाहता है। उसने पिछले 12 साल से लगातार जेल में रहने का भी हवाला दिया। उसकी ये सभी दलीलें तब बेदम साबित हुईं जब उसे पैरोल की इजाजत नहीं मिली।

अबू सलेम कई गंभीर किस्म के अपराधों और आतंकी गतिविधियों में शामिल रहा है। वह मूलत: उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ जिले से है। इससे पहले वह समैरा जुमानी नामक युवती से 1991 में शादी कर चुका है। समैरा मीडिया के सामने नहीं आतीं। कहा जाता है कि इस वक्त वह अमेरिका में है। वह सलेम पर हिंसा संबंधी आरोप लगा चुकी है।

अबू सलेम का बॉलीवुड अभिनेत्री मोनिका बेदी से भी संबंध रहा है। उन्हें सितंबर 2002 में पुर्तगाल में गिरफ्तार किया गया था। बाद में उनका प्रत्यर्पण कर भारत लाया गया। अब मोनिका बेदी जेल से बाहर हैं लेकिन फिलहाल डॉन को शादी के लिए पैरोल मिलना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन नजर आता है।

जरूर पढ़िए:
– विभाजन के दौरान कराची के इन पंचमुखी हनुमान ने बचाए थे अपने कई भक्तों के प्राण
– न्यूनतम राशि न रखने पर जुर्माना लगा बैंक हो गए मालामाल, कर ली करोड़ों की कमाई
– मेहुल चोकसी मामले में भारत को बड़ी कामयाबी, एंटीगुआ से की प्रत्यर्पण संधि!
– आतंकी 15 अगस्त को दिल्ली में करना चाहते थे धमाके, पुलिस ने युवक से बरामद किए 8 ग्रेनेड

Facebook Comments

LEAVE A REPLY