Amit Shah Rally Kolkata
Amit Shah Rally Kolkata

कोलकाता। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कोलकाता रैली में तृणमूल सरकार पर खूब शब्दबाण चलाए। इस मौके पर शाह ने बांग्लादेशी घुसपैठियों का मुद्दा उठाया और आरोप लगाया कि ये ममता बनर्जी के वोटबैं​क हैं, इसलिए तृणमूल कांग्रेस एनआरसी के विरोध में खड़ी है। अमित शाह की रैली का विरोध करते हुए तृणमूल कार्यकर्ताओं ने कई जगह उनके विरोध में पोस्टर लगा दिए थे और भाजपा को बंगाल-विरोधी कहा था। इस पर शाह ने कहा है कि भाजपा बंगाल विरोधी नहीं है। उसके तो संस्थापक ही बंगाल से थे। उन्होंने ममता बनर्जी को बंगाल विरोधी बताया।

अमित शाह ने एनआरसी का समर्थन करते हुए कहा कि इस प्रक्रिया के जरिए विदेशी घुसपैठिए बाहर निकाले जाएंगे। ममता बनर्जी के रोकने से एनआरसी नहीं रुकेगी। असम में एनआरसी न्यायिक तरीके से ही संपूर्ण होगी। इसके अलावा अमित शाह ने पूर्ववर्ती कम्युनिस्ट सरकार को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि एक समय में ये बांग्लादेशी घुसपैठिए कम्युनिस्ट पार्टी का वोटबैंक थे। उस दौरान ममता उनका विरोध कर रही थीं और लोकसभा में हंगामा किया। तब वे बांग्लादेशी घुसपैठियों को वापस भेजने की मांग कर रही थीं। अब ये इनके वोटबैंक बन गए हैं।

इसी के साथ शाह ने कांग्रेस को घेरा। उन्होंने कहा कि ममता और कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष को स्पष्ट करना चाहिए कि वे देश को आगे रखते हैं या वोटबैंक को। वोटबैंक की खातिर राहुल गांधी अपना मत स्पष्ट नहीं कर रहे। अमित शाह ने कहा कि बंगाल के अंदर जो बम धमाके होते हैं, उनमें बांग्लादे​शी घुसपैठियों का हाथ होता है। उन्होंने कहा कि घुसपैठिए सभी का हक खा रहे हैं।

Amit Shah Rally Kolkata
Amit Shah Rally Kolkata

भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि प्रदेश में तृणमूल सरकार आते ही भ्रष्टाचार की शृंखला बनती जा रही है। बंगाल को भ्रष्टाचार से तभी मुक्ति मिल सकती है जब नरेंद्र मोदी की सरकार बनेगी। उन्होंने प्रदेश सरकार के राज में शांति भंग होने का आरोप लगाते हुए कहा कि पहले यहां रवींद्रनाथ का संगीत, चैतन्य महाप्रभु का कीर्तन सुनाई देता था। आज बम धमाकों की आवाज सुनाई देती है। तृणमूल के शासन में बम और पिस्टल बनाने के कारखाने बढ़े हैं। शाह ने कहा कि तृणमूल शासन में दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन नहीं करने देते, स्कूलों में सरस्वती पूजा बंद करा दी गई। भाजपा की सरकार में डंके की चोट पर दुर्गा विसर्जन होगा और सरस्वती पूजा होगी।

इस अवसर पर अमित शाह ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी, स्वामी विवेकानंद, खुदीराम बोस जैसे महापुरुषों को याद किया। उन्होंने आरोप लगाया कि बांग्ला टीवी चैनलों पर रैली का प्रसारण रोक दिया गया। शाह ने पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या का मुद्दा उठाया और कहा कि वे बंगाल के हर जिले में जाएंगे और तृणमूल को उखाड़ देंगे। शाह ने कहा कि हत्या करने वालों को गद्दी छोड़नी पड़ती है। भाजपा अध्यक्ष ने मोदी सरकार द्वारा बंगाल को दी गई राशि का उल्लेख किया और कहा, जो रुपया भेजा गया वह यहां भ्रष्टाचार में समाप्त हो गया। उन्होंने रैली में मौजूद लोगों से आह्वान​ किया कि बंगाल में विकास के लिए भाजपा को मजबूत करें।

ये भी पढ़िए:
मुस्लिम युवक ने कांवड़ लाकर किया शिव का जलाभिषेक तो मस्जिद में पीटा, नहीं पढ़ने दी नमाज़
– भाजपा पर सवाल उठाते राहुल कर बैठे ऐसी गलती, सोशल मीडिया पर उड़ रहा मज़ाक
– सलमान ने कबूल किया फिटनेस चैलेंज, वीडियो में बॉडी बनाते दिखे ‘सुल्तान’

Facebook Comments

LEAVE A REPLY