pm modi speech in loksabha
pm modi speech in loksabha

16वीं लोकसभा के विदाई भाषण में राहुल पर प्रधानमंत्री ने खूब ली चुटकी 

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को 16वीं लोकसभा के आखिरी सत्र में विदाई भाषण दिया। इस दौरान उन्होंने मुलायम सिंह के उस बयान पर आभार जताया जिसमें उन्होंने मोदी के लिए दोबारा देश का प्रधानमंत्री बनने की कामना की थी। मोदी ने देश की तरक्की के लिए सरकार द्वारा किए गए प्रयासों के साथ ही अपने चिरपरिचित अंदाज में राहुल गांधी पर भी चुटकी ली।

मोदी ने सभी सदस्यों की ओर से लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को सदन की कार्यवाही सुचारु रूप से चलाने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि 16वीं लोकसभा सबसे अधिक महिला सांसदों के लिए जानी जाएगी, जिनमें से 44 महिला सांसद पहली बार चुनकर आईं। उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकाल में देश विश्व की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना है। इसके लिए यहां बैठे सभी सदस्य बधाई के पात्र हैं, क्योंकि नीति-निर्धारण का काम यहीं हुआ है।

देशवासियों को यश
मोदी ने कहा कि आज विश्व में भारत का एक अलग स्थान बना है जिसका पूरा यश पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने वाले देश के सवा सौ करोड़ देशवासियों को जाता है। पिछले पांच साल में भारत ने मानवता के काम में बहुत बड़ी भूमिका अदा की है। उन्होंने कहा कि इस सदन के सदस्य जब जनता के बीच जाएंगे, तो वे गर्व से इन पांच वर्षों में सदन द्वारा काले धन और भ्रष्टाचार के विरुद्ध बनाए गए कानूनों के विषय में बता सकते हैं।

आंखों की गुस्ताखियां भी देखीं!
मोदी ने कहा कि इस सदन के सदस्यों ने 1,400 से अधिक निष्क्रिय कानूनों को समाप्त करने का भी काम किया है। उन्होंने कहा कि पहली बार इस सदन में आने पर ही मुझे पता चला कि गले मिलने और गले पड़ने में क्या अंतर होता है। इसी सदन में मैंने पहली बार आंखों की गुस्ताखियों वाला खेल भी देखा। उन्होंने कहा कि मुझ जैसे नए सांसद ने आप सभी से बहुत कुछ सीखा है। यहां आकर मुझे कभी नहीं लगा कि मैं नया हूं, इसके लिए मैं आप सबको धन्यवाद देता हूं।

नहीं आया कोई भूकंप
मोदी ने राहुल द्वारा पूर्व में दिए एक बयान पर कहा कि सदन में हम सुनते थे कि भूकंप आएगा, लेकिन पांच साल का कार्यकाल अब पूरा हो रहा है और कोई भूकंप नहीं आया। कभी हवाई जहाज उड़ाए गए, पर लोकतंत्र और लोकसभा की मर्यादा इतनी ऊंची है कि इसे कोई फर्क नहीं पड़ा। मोदी ने कहा कि आज योग पूरे विश्व में गौरव का विषय बन गया है। यूएन के अंदर बाबासाहेब आंबेडकर और महात्मा गांधी की जयंती मनाई जा रही है। उन्होंने कहा कि इस सदन ने काले धन और भ्रष्टाचार के विरुद्ध कई कानून बनाए। इसी सदन ने जीएसटी बिल भी पारित किया। इसके अतिरिक्त लोकमहत्व के बहुत से बिल इस सदन में पास किए गए। उन्होंने कहा कि आज विश्व में भारत का जो कद बढ़ा है, उसके मूल में 2014 में 30 साल बाद बनी पूर्ण बहुमत वाली सरकार है।

LEAVE A REPLY