from mexico to usa
from mexico to usa

वॉशिंगटन/दक्षिण भारत। आमतौर पर जब किसी को शिक्षा प्राप्त करने के लिए विदेश जाना होता है तो दो बार ही पासपोर्ट की जरूरत होती है। पहले, तब जब वह विदेश में दाखिल होता है। दूसरे, जब वह स्वदेश लौटता है, लेकिन इन दिनों कुछ स्कूली बच्चे अपने पासपोर्ट की वजह से काफी चर्चा में हैं। इन्हें हर रोज पासपोर्ट की जरूरत पड़ती है। इसके लिए वे हमेशा पासपोर्ट साथ रखते हैं।

ये बच्चे मैक्सिको के नागरिक हैं, लेकिन पढ़ाई करने हर रोज अमेरिका जाते हैं। इन्होंने अमेरिका के कोलंबस एलीमेंट्री स्कूल में दाखिला लिया है। हर सुबह जब ये बच्चे स्कूल जाने के लिए अंतरराष्ट्रीय सीमा पार करते हैं तो एक कतार में खड़े हो जाते हैं। फिर बारी-बारी से इनके पासपोर्ट और दस्तावेजों की जांच होती है। जब सबकुछ ठीक पाया जाता है तो सुरक्षा अधिकारी इन्हें आगे जाने की इजाजत देते हैं।

इस तरह सरहद पार कर ये बच्चे स्कूल पहुंचते हैं। शाम को स्कूल की छुट्टी होने के बाद एक ​बार फिर यही प्रक्रिया शुरू होती है। सरहद पर अधिकारी जांच के बाद इन्हें मैक्सिको की सीमा में दाखिल होने की इजाजत देते हैं। अगर कोई बच्चा किसी दिन पासपोर्ट लाना भूल जाता है तो उसका उस दिन स्कूल जाना नामुमकिन होता है।

बताया गया है ​कि इनमें से काफी बच्चे मैक्सिको के प्योर्तो पालोमस से हैं। विभिन्न कानूनी बाध्यताओं के कारण इनकी पढ़ाई पासपोर्ट दिखाने के साथ शुरू होती है और पासपोर्ट से ही इनका घर लौट पाना मुमकिन हो पाता है। इन बच्चों को अमेरिका में पढ़ाई के लिए भेजने के पीछे अभिभावकों की अपनी दलील है। उनका मानना है कि मैक्सिको के मुकाबले अमेरिका में शिक्षा का स्तर बहुत अच्छा है। इसलिए वे बच्चों को सरहद पार कर पढ़ाई के लिए प्रेरित करते हैं।

LEAVE A REPLY