मैसूरु/वार्ताकर्नाटक गन्ना उत्पादक संघ के अध्यक्ष कुरुबुरु शांताकुमार ने बुधवार को कांग्रेस पर संविधान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि जनता दल (सेक्युलर) से गठबंधन कर सत्ता में लौटने का इस पार्टी का प्रयास जनादेश के विरुद्ध है। शांताकुमार ने यहां संवाददाताओं से कहा, कांग्रेस सरकार ने काबिनी का पानी तमिलनाडु को जारी कर दिया था। उन्होंने किसानों को पानी के लिए भीख मांगने पर मजबूर कर दिया था। जब किसान पानी जारी करने की मांग को लेकर सिद्दरामैया के निवास पर गए तो पुलिस बल का प्रयोग कर उन्हें रोक दिया गया।उन्होंने कहा कि मतदाताओं ने सिद्दरामैया और पूर्व मंत्री एचसी महादेवप्पा को बहुत अच्छा सबक सिखाया। राज्य में सत्ता विरोधी लहर थी तथा लोगों ने सिद्दरामैया के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को पूरी तरह नकार दिया। उन्होंने कहा कि सिद्दरामैया मंत्रिमंडल के १४ मंत्री चुनाव हार गये तथा उनका सत्ता में लौटना संविधान विरोधी होगा। शांताकुमार ने सरकार बनाने वाली पार्टियों से चुनाव घोषणापत्र में किये गए वादों को पूरा करने की मांग की। उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को लागू करने पर विचार-विमर्श करने के लिए आगामी १८ मई को बेंगलूरु के गांधी भवन में एक बैठक आयोजित की जाएगी।

LEAVE A REPLY