कलबुर्गी। गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने गुरुवार को स्वीकार किया है कि बेंगलूरु स्थित लोकायुक्त कार्यालय की सुरक्षा व्यवस्था में कमियों का फायदा उठाकर बुधवार को लोकायुक्त से मिलने के बहाने अंदर गए हमलावर को लोकायुक्त न्यायाधीश विश्वनाथ शेट्टी पर चाकू से हमला करने में सफलता मिल गई। उन्होंने इसे गंभीर सुरक्षा चूक मानते हुए जल्दी ही व्यवस्था चाक-चौबंद करने का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि खुद मुख्यमंत्री इस बारे में जरूरी आदेश दे चुके हैं। वहीं, आज यहां पत्रकारों से बातचीत में रेड्डी ने कहा कि घटना के बाद हुई शुरुआती जांच में लोकायुक्त कार्यालय की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की ढिलाई का संकेत मिलने पर उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। वहीं, रेड्डी ने इस घटना के बाद विपक्ष की मांग पर अपने पद से इस्तीफा देने से स्पष्ट इन्कार कर दिया। उन्होंने कहा कि लोकायुक्त कार्यालय के प्रवेश द्वारा पर जो मेटल डिटेक्टर लगा हुआ था, उसमें कुछ ग़डब़डी थी। इसी वजह से हमलावर तेजराज शर्मा अपने कप़डों के अंदर चाकू छिपाकर लोकायुक्त कार्यालय में प्रवेश करने में सफल हो गया। वहां इस मेटल डिटेक्टर के स्थान पर दूसरा दुरुस्त डिटेक्टर लगाने का आदेश भी जारी कर दिया गया है। इसके साथ ही लोकायुक्त और उप लोकायुक्त को दिए गए अब तक के सुरक्षा घेरे को पहले से अधिक मजबूत करने का निर्णय लिया गया है। इस घटना की तह तक पहुंचने के लिए राज्य सरकार ने एक उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया है। शासकीय कार्यालयों और भवनों में सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करने के लिए जल्दी ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की जाएगी। रेड्डी ने माल्या सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के विशेषज्ञ डॉक्टरों के हवाले से बताया कि लोकायुक्त न्यायाधीश अपनी चोटों से उबर रहे हैं्। उनका इलाज फिलहाल जारी है।वहीं, पत्रकारों के एक प्रश्न के उत्तर में बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए उन्होंने अपनी बेटी सौम्या के लिए कांग्रेस नेतृत्व से पार्टी के टिकट का अनुरोध किया है। मई में होने वाले चुनाव में सौम्या पार्टी प्रत्याशी के रूप में जयनगर विधानसभा सीट से अपनी किस्मत आजमा सकती हैं। उन्होंने कहा, ’’अगर पार्टी उसे (सौम्या को) योग्य उम्मीदवार समझती है, तभी उसे टिकट दिया जाएगा। उसे टिकट देने के निर्णय में इस बात को महत्व नहीं दिया जाएगा कि वह मेरी बेटी है। वह महिला और युवा कांग्रेस से कई वर्षों तक पूरी सक्रियता के साथ जु़डी रही है।’’

LEAVE A REPLY