चेन्नई। राज्य के उप मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने शनिवार को अप्रत्यक्ष रुप से फिल्मी दुनिया से राजनीति में प्रवेश करने वाले रजनीकांत आौर कमल हासन पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि राजनीति के क्षितिज पर उभरने वाली नई पार्टियां रंग बिरंगी बैलून की तरह हैं जो जल्द ही फट जाएंगे। इस प्रकार की पार्टियों के पीछे जो लोग हैं वह अपने चेहरे पर अच्छा मेकअप लगाकर अपने आप को ईमानदार दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। यह सभी पार्टियां फुलझ़डी की तरह कुछ देर के लिए रंग बिरंगी रौशनी करने के बाद समाप्त हो जाएंगी।ज्द्भध्यध्त्रय् ·र्ैंर्‍ ·र्ैंय्ैंडद्भ झ्श्न्यत्रद्बय् ·र्ैंय् ृद्मय्प्द्यह्लय् पन्नीरसेल्वम ने यहां पार्टी मुख्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री जयनललिता की कांस्य प्रतिमा का अनावरण करने के बाद अखिल भारतीय अन्ना द्रवि़ड मुनेत्र कषगम(अन्नाद्रमुक) कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह बातें कही। शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के ७० वीं जन्म जयंती पर उनकी छह फुट लंबी कांस्य प्रतिमा का अनावरण अन्नाद्रमुक मुख्यालय में किया गया। उन्होंने कहा कि कुछ घुसपैठीए पार्टी को तो़डने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन यह सरकार अम्मा द्वारा चलाई जा रही है और इसका प्रबंधन पूरी तरह से इसके कार्यकर्ताओं द्वारा किया जा रहा है इसलिए अन्नाद्रमुक को तो़डना कभी संभव नहीं होगा।ब्द्ब ्य·र्ैंफ्र्‍ द्नर्‍ फ्द्बद्भ घ्रुद्मय्प् ·र्ैंय् फ्य्द्बद्मय् ·र्ैंद्यद्मष्ठ ·र्ष्ठैं ्यध्ॅ त्रस्द्भय्द्यउन्होंने कहा कि कोई भी हमारी पार्टी या सरकार को गिराने का सपना भी नहीं देख सकता है क्योंकि हम किसी भी समय चुनाव का सामना करने के लिए तैयार हैं। पन्नीरसेल्वम ने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ता पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के दु:ख को छुपाने के लिए मुस्कुरा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को इस बात की पहचान है कि कौन पार्टी के लिए कार्य कर रहा है और पार्टी को तो़डने की कोशिश कर रहा है और ऐसे में जो लोग पार्टी के अंदर अपने समर्थकों के होने का दावा करते हैं उन्हें इस बात को समझ लेना चाहिए कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को ऐसे लोगों की पहचान करने और उन्हें पार्टी हित के लिए पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाने में देर नहीं लगेगी।ृस्त्रय्य्त्त्श्नद्बरु·र्ैं ·र्ैंह् ·र्ैंह्ंश्च च्रूण द्मब्र्‍्र फ्·र्ैंत्रय्मुख्यमंत्री ईके पलानीस्वामी ने कहा कि देश में कोई भी पार्टी अन्नाद्रमुक की तरह नहीं है जिसका प्रबंधन जयललिता द्वारा किया गया था। उन्होंने कहा कि जयललिता के निधन के बाद इस पार्टी के सामने पिछले कुछ समय में कई बाधाएं आई और सरकार को गिराने की कोशिश की गई लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि कोई भी हमारी पार्टी को छू तक नहीं सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सभी लोग एकजुट हैं और जयललिता की विरासत को आगे ले जाने के लिए प्रयासरत हैं।झ्ध्य्द्मर्‍डप्य्द्बर्‍ द्मष्ठ ·र्ैंब्य् फ्द्नर्‍ ·र्ैंय्द्भश्च·र्ैंत्रय्श्चृह्र द्बष्ठ्र ज्द्भध्यध्त्रय्राज्य विधानसभा में जयललिता की प्रतिमा को पूर्व मुख्यमंत्री एमजीआर की प्रतिमा की दाई ओर स्थापित किया गया है। पार्टी मुख्यालय में प्रवेश द्वारा के निकट स्थित एमजीआर की प्रतिमा के बाद अब जयललिता की प्रतिमा भी नजर आएगी। जयललिता की प्रतिमा एमजीआर की प्रतिमा से आकार में ब़डी है और इसे जाने माने मूर्तिकार प्रसाद ने तैयार किया है। इस अवसर पर जयललिता की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री ने प्रतिमा बनाने वाले मूर्तिकानर को एक सोने की अंगूठी देकर सम्मानित किया।पलानीस्वामी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि हम सभी एक लक्ष्य है और हमें हमेशा से इस बात को ध्यान में रखना चाहिए कि जयललिता हमसे दूर नहीं गई हैं वह अपने कार्यों, अपनी नीतियों और अपनी प्रशासनिक क्षमता के माध्यम से दूर होते हुए भी हम सभी लोगों के अंदर मौजूद है। अन्नाद्रमुक के प्रत्येक कार्यकर्ता के कार्य में पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की झलक मिलनी चाहिए।फ्žय्र्य्ङैंढ्ढण थ्ठ्ठणक्कष्ठ ·र्ैंय् फ्द्बय्घ्य्द्यझ्ख़य् ·र्ैंय् ब्रुृय् ्यप्द्बह्घ्द्मइस अवसर पर पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम गुट की ओर से अपने समाचार पत्र का विमोचन भी किया गया। इस समाचार पत्र का नाम नामधु पुरुची तलवी अम्मा रखा गया है। पन्नीरसेल्वम और पलानीस्वामी इस समाचारपत्र के संस्थापक हैं। इसके पहले संस्करण में १३४ पृष्ठ हैं। पहले संस्करण में पार्टी की गतिविधियों और जयललिता द्वारा किए गए कार्यों के साथ ही शनिवार को हुए प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम की जानकारी है। ज्ञातव्य है कि पहले अन्नाद्रमुक का मुखपत्र नामधु एमजीआर हुआ करता था जिसपर मौजूदा समय में दिनाकरण परिवार का स्वामित्व है। पिछले एक वर्ष से पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम गुट द्वारा अपना समाचारपत्र शुुरु करने की योजना बना रहे थे।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY