अगरतला। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को त्रिपुरा में नयी भाजपा सरकार को केंद्र के पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया और कहा कि तरक्की के रास्ते पर पूरा देश राज्य के साथ है। त्रिपुरा में पहली भाजपा सरकार के शपथ ग्रहण करने के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के पास अवसर और क्षमता है जिनका प्रदेश के विकास के लिए इस्तेमाल करना होगा। यहां असम राइफल्स ग्राउंड में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा, मैं त्रिपुरा के लोगों से अपील करता हूं कि आइए, हम राज्य को नयी ऊंचाइयों पर ले जाएं ताकि हम लोगों की जिंदगी बदल सकें। मैं यह आश्वासन देना चाहता हूं कि विकास के रास्ते पर त्रिपुरा को केंद्र सरकार का पूर्ण समर्थन और सहयोग रहेगा तथा यह सहयोग सहकारी संघवादपर आधारित होगा। इससे पूर्व, बिप्लब कुमार देब ने मुख्यमंत्री के रूप में और जिश्नू देब बर्मन ने उप मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। सात अन्य मंत्रियों ने भी शपथ ग्रहण की जिनमें आईपीएफटी के प्रमुख एन सी देबबर्मा भी शामिल हैं। प्रदेश की पहली भाजपा सरकार वाम मोर्चे के २५ साल के शासन को समाप्त करके सत्ता में आई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का मूल मंत्र विकास, सुशासन, लोगों की भागीदारी और सबका साथ सबका विकास होगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, मैंने बतौर प्रधानमंत्री कई बार पूर्वोत्तर का दौरा किया है और मैं आप लोगों को बताना चाहता हूं कि भारत पूर्वोत्तर के साथ है, भारत पूर्वोत्तर के मसलों को समझता है और हर भारतीय पूर्वोत्तर के लोगों के साथ ख़डा है। शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी ने भी भाग लिया। भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, गुजरात के विजय रूपानी, मध्य प्रदेश के शिवराज सिंह चौहान, असम के सर्वानंद सोनोवाल, झारखंड के रघुवर दास तथा कई अन्य जानी मानी हस्तियों ने भी समारोह में शिरकत की।

LEAVE A REPLY