naxal attack in chhattisgarh
naxal attack in chhattisgarh

रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव से पहले नक्सलियों ने एक बार फिर घातक हमला किया है। मंगलवार को दंतेवाड़ा के अरनपुर थाना क्षेत्र में घात लगाकर किए गए इस हमले में पुलिस के दो जवानों सहित तीन लोगों की मौत हो गई। इस नक्सली हमले में दूरदर्शन के कैमरामैन अच्युतानंद साही की मौत हो गई।

एक रिपोर्ट के अनुसार, दूरदर्शन की टीम विधानसभा चुनाव की कवरेज के लिए इस इलाके में आई थी। अचानक अरनपुर क्षेत्र में स्थित नीलावाया के जंगलों में नक्सलियों ने हमला कर दिया। हमले में दो पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। बता दें कि हमले के दौरान सुरक्षाबलों और नक्सलियों में मुठभेड़ भी हुई थी।

इस संबंध में दंतेवाड़ा के डीआईजी पी. सुंदरराज ने कहा कि नक्सलियों ने अरनपुर में गश्ती दल पर हमला किया था। इस हमले में दो जवान शहीद गए हैं और दो अन्य घायल हैं। उन्होंने बताया कि हमले में दूरदर्शन के कैमरामैन भी घायल हुए, जिनकी बाद में मृत्यु हो गई।

naxal attack
naxal attack

घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। वहां उन्होंने कैमरामैन को घायल अवस्था में पाया। वे इलाज के लिए ले जा रहे थे कि उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। घटना के बाद यहां अतिरिक्त सुरक्षाबल मंगवाया गया है। आसपास के इलाकों में तलाशी अभियान चलाकर हमलावरों का सुराग लगाने की कोशिश की जा रही है।

27 अक्टूबर को नक्सलियों ने सीआरपीएफ जवानों के एक गश्ती दल पर हमला किया था, जिसमें चार जवान शहीद हो गए थे। नक्सलियों ने बीजापुर के मुरदोंडा गांव के पास आईईडी से धमाका किया था। छत्तीसगढ़ में नक्सली गोलीबारी के अलावा आईईडी धमाका कर कई घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। दंतेवाड़ा में ही वर्ष 2010 में नक्सलियों ने भीषण हमला किया था, जिसमें सीआरपीएफ के 75 जवान शहीद हो गए थे।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने इस घटना पर गहरा दुख जताया। उन्होंने कैमरामैन को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनकी संवेदनाएं शहीदों के परिजनों के साथ हैं। लोकतंत्र और विकास विरोधी नक्सली बौखलाहट में कायराना घटनाओं को अंजाम देकर हमारे जवानों की पीठ पर वार कर रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि इस समय हम दिवंगत कैमरामैन के परिवार के साथ खड़े हैं। हम उनके परिवार की देखभाल करेंगे। उन्होंने कहा, मैं ऐसे सभी मीडियाकर्मियों को सलाम करता हूं जो ऐसी खतरनाक स्थितियों में कवरेज के लिए जाते हैं।

नक्सलरोधी अभियानों के विशेष डीजी डीएम अवस्थी ने कहा कि घटना के बाद इस इलाके से आठ—दस आईईडी बरामद की गई हैं, जिन्हें नष्ट कर दिया गया है। यह हमला अरनपुर में सड़क निर्माण को निशाना बनाने के लिए किया गया था। आने वाले दिनों में नक्सलियों के खिलाफ और अभियान चलाए जाएंगे।

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव करीब हैं। राज्य में पहले चरण का ​चुनाव 12 नवंबर और दूसरे चरण का चुनाव 20 नवंबर को होगा। चुनाव परिणाम 11 दिसंबर को आएंगे। इस समय छत्तीसगढ़ में आचार संहिता लागू है। नक्सली चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने के लिए हमले कर रहे हैं।

ये भी पढ़िए:
– पाकिस्तान को सेना का करारा जवाब, एलओसी के करीब मुख्यालय पर हमला, आतंकी अड्डे तबाह
– खाते में अरबों रुपए देखकर कांपने लगा पाकिस्तानी रिक्शा चालक, बीवी हुई बीमार
– बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा ज़िया भ्रष्टाचार की दोषी, 7 साल कैद, 10 लाख जुर्माना

LEAVE A REPLY