जकार्ता। भारतीय मुक्केबाजों ने गुरुवार को यहां समाप्त हुई एशियाई खेलों की परीक्षण प्रतियोगिता में पांच स्वर्ण, एक रजत और चार कांस्य पदक अपने नाम किए। इंडिया ओपन के स्वर्ण पदकधारी मनीष कौशिक (६० किग्रा) ने लगातार दूसरी बार पहला स्थान हासिल किया। इस तरह उन्होंने पिछले साल राष्ट्रीय खिताब जीतने के बाद अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा।पवित्रा (६० किग्रा) महिलाओं के ड्रा में भारत की एकमात्र स्वर्ण पदकधारी मुक्केबाज रहीं। तीन बार के किंग्स कप स्वर्ण पदकधारी के श्याम कुमार (४९ किग्रा), शेख सलमान अनवर (५२ किग्रा) और आशीष (६४ किग्रा) ने मनीष के साथ पीला तमगा हासिल किया। पवित्रा ने भारत के लिए स्वर्ण पदक जीतने की शुरुआत की, उन्होंने थाईलैंड की निलावन तेचास्यूप को ५-० से शिकस्त देकर पहला स्थान प्राप्त किया। के श्याम कुमार ने मारियो ब्लासियूस काली को ४-१ से मात देकर शीर्ष स्थान हासिल किया। हालांकि इस भारतीय मुक्केबाज को अपनी रणनीति के दौरान कई बार चेतावनी भी मिली। सलमान अनवर ने फिलीपींस के रोजेन लाडोन को ५-० से मात दी जबकि मनीष ने जापान के रेंटारो किमुरा को हराकर अपने अपने वर्गों का स्वर्ण जीता। आशीष ने स्थानीय प्रबल दावेदार सुगर रे ओकाना को एकतरफा मुकाबले में पस्त कर पहला स्थान प्राप्त किया। शशि चोप़डा (५७ किग्रा) को हालांकि रजत पदक से संतोष करना प़डा। पिछले महीने इंडिया ओपन की कांस्य पदकधारी यह मुक्केबाज थाईलैंड की रतचादापोर्न साओतो से हार गई जिससे वह दूसरे स्थान पर रहीं। मुहम्मद इताश खान (५६ किग्रा), रितु ग्रेवाल (५१ किग्रा), पवन कुमार (६९ किग्रा) और आशीष कुमार (७५ किग्रा) को कल सेमीफाइनल बाउट में हारकर कांस्य पदक मिला था।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY