titli cyclone
titli cyclone

भुवनेश्वर। चक्रवाती तूफान ‘तितली’ कहर बनकर टूटा है। इससे अब तक कम से कम आठ लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कई इलाकों में भारी तबाही मचाई है। जानकारी के अनुसार, अब यह तूफान बंगाल की ओर बढ़ रहा है। उससे पहले यह उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिणी ओडिशा के तटीय इलाकों में पहुंचा था। आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में आठ लोगों के मारे जाने की खबर है। इसके अलावा ओडिशा के गोपालपुर में एक नाव डूब गई। उस पर पांच मछुआरे सवार थे। ये समुद्र में थे, तभी तेज रफ्तार से हवाएं चलने लगीं। हालांकि उन्हें बचा लिया गया है।

ओडिशा के तूफान प्रभावित इलाकों से अब तक 3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है। तेज हवाएं चलने से कई इलाकों में कच्चे मकानों को नुकसान हुआ है। इसके अलावा कई पेड़ उखड़ गए। प्रभावित इलाकों में कई जगह बिजली के खंभे भी गिर गए हैं। एनडीआरएफ की टीमें बचाव एवं राहत अभियान के लिए मुस्तैदी से तैनात हैं। मौसम विभाग हर पल तूफान पर नजर बनाए हुए है।

‘तितली’ की वजह से आए मौसमी बदलाव के बाद कई इलाकों में भारी बारिश हुई है। बारिश का असर आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में भी देखा गया। यहां भारी बरसात के बाद कई इलाकों में पानी भर गया। विभिन्न रिपोर्टों के अनुसार, यहां दो से 26 सेमी तक बारिश के समाचार हैं।

ओडिशा में ‘तितली’ का खासा असर दिखाई दिया। यहां 150 किमी प्रति घंटे तक की रफ्तार से हवाएं चलने लगीं। कुछ रिपोर्टों में 165 किमी प्रति घंटे तक का अनुमान जताया गया है। तूफान का ज्यादा असर गोपालपुर में देखा गया। तूफान से पैदा हुए मुश्किल हालात को देखते हुए ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के इन इलाकों में रेड अलर्ट जारी किया गया है। रेल और यातायात व्यवस्था अवरुद्ध हुई है। यहां स्कूल-कॉलेज बंद हैं। देशभर में लोग सलामती के लिए दुआ कर रहे हैं।

ये भी पढ़िए:
– पायलट बनते ही युवक ने निभाया वादा, गांव के 22 बुजुर्गों को कराया हवाई सफर
– बांग्लादेश: 2004 के ग्रेनेड कांड में दो पूर्व मंत्रियों समेत 19 लोगों को सजा-ए-मौत
– खूबसूरत लड़कियों के नाम से फेसबुक आईडी बनाकर पाक की आईएसआई ऐसे करवा रही जासूसी
– गरीबी में दिन काट रहे मजदूर की खुली किस्मत, खदान से मिला बेशकीमती हीरा

LEAVE A REPLY