donald trump
donald trump

वॉशिंगटन/वार्ता। अमेरिका ने पाकिस्तान के आतंकवादी समूहों के खिलाफ समुचित कार्रवाई में विफल रहने के कारण दी उसे दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर की सैन्य सहायता रद्द किए जाने का निर्णय लिया है।

समाचारपत्र द इंडिपेंडेन्ट ने रविवार को अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी। रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल कोनी फॉकनर ने कहा है कि अगर अमेरिकी कांग्रेस से मंजूरी मिली तो रक्षा विभाग अब इस फंड का इस्तेमाल अपनी अन्य आवश्यक प्राथमिकताओं पर करेगा।

कर्नल फॉकनर ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की सलाह के बाद यह निर्णय लिया गया। अमेरिका पाकिस्तान को बार-बार मदद करता रहा है, लेकिन बदले में उसे झूठ और धोखा ही मिला।

रक्षा मंत्रालय मुख्यालय पेंटागन के प्रवक्ता ने बताया कि इस वर्ष के प्रारंभ में भी अमेरिका ने पाकिस्तान का 50 करोड़ डॉलर की वित्तीय मदद रद्द कर दी थी। ट्रंप सरकार का मानना है कि पाकिस्तान उन चरमपंथियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह बना हुआ है जो पड़ोसी देश अफगानिस्तान में पिछले 17 सालों से जंग छेड़े हुए हैं।

ये भी पढ़िए:
यहां आज भी राधा संग आते हैं श्रीकृष्ण, जिसने भी देखना चाहा, वह हो गया पागल!
जब बेंगलूरु में कथित ‘चुड़ैल’ के डर से दरवाजे पर लिखते थे यह बात, इसी से जुड़ी ‘स्त्री’ की कहानी
पाकिस्तान रेंजर्स ने ​अखबार में विज्ञापन छापकर किया हिंदुओं का अपमान! खूब हो रहा विरोध
प्रेमिका के साथ छुट्टियां मनाने गए थे मंत्री, एक भूल पड़ी भारी, आते ही देना पड़ा इस्तीफा!

LEAVE A REPLY