sabarimala temple
sabarimala temple

तिरुवनंतपुरम। प्रसिद्ध तीर्थ सबरीमाला मंदिर के कपाट सोमवार को खुलेंगे। इसके लिए यहां भारी पुलिसबल तैनात किया गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, मंदिर कस्बे में करीब 2,300 पुलिसकर्मियों को लगाया गया है ताकि कानून व्यवस्था बहाल की जा सके। ये इंतजाम पिछले दिनों हुए व्यापक विरोध प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए किए गए हैं, जब उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद भी महिलाओं को मंदिर में प्रवेश नहीं करने दिया गया और प्रदर्शन उग्र हो गया।

अब स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए ऐहतियात के तौर पर 4 से 6 नवंबर तक सन्नीधनम, पंबा, निलाक्कल और इलावंकुल में धारा 144 लागू रहेगी। मंदिर के कपाट शाम 5 बजे खोले जाएंगे और रात 10 बजे बंद होंगे। पथानमथिट्टा जिला कलेक्टर पीबी नूह ने मंदिर कस्बे और उसके आसपास के इलाकों में निषेधाज्ञा लागू कर दी है। यह कदम प्रदर्शनकारियों के विरोध को ध्यान में रखकर उठाया गया है। यहां चार या उससे अधिक लोगों के इकठ्ठा होने पर प्रतिबंध रहेगा।

एक रिपोर्ट के अनुसार, निलक्कल से लेकर मंदिर कस्बे, आधार शिविर पांबा तक जाने वाली सड़कों पर बैरिकैड लगाए गए हैं। इन्हें सोमवार तक प्रशासन द्वारा निषिद्ध घोषित किया गया। मंदिर कस्बे और उसके आसपास के इलाकों से गुजरने वाले वाहनों की जांच की जा रही है ताकि बाद में किसी भी अप्रिय स्थिति को घटित होने से रोका जा सके।

पुलिस ने बताया कि पांबा आधार शिविर से मंदिर वाले मार्ग और मंदिर के गर्भ-गृह के निकट किसी को जाने की अनुमति नहीं होगी। जानकारी के अनुसार, शनिवार तक पुलिस ने 536 मामले दर्ज कर 3,719 लोगों को गिरफ्तार किया। हालांकि इनमें से करीब 100 लोग ही जेल में हैं। शेष लोगों को जमानत मिल गई। पिछले ​महीने की 17 से 22 तारीख तक मंदिर के कपाट पूजन के लिए खुले थे। तब महिलाओं के प्रवेश को लेकर यहां उग्र विरोध प्रदर्शन हुए।

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश मामले पर उच्चतम न्यायालय ने 28 सितंबर को फैसला दिया था। इसके मुताबिक, अब यहां हर आयु की महिला को प्रवेश की अनुमति है। अब तक मंदिर की एक खास परंपरा के तहत 10 से 50 साल की आयु वाली महिलाओं का प्रवेश वर्जित था।

ये भी पढ़िए:
– जासूसी के जुर्म में 16 साल सजा के बाद रिहा हुए पाकिस्तानी का बदला दिल, साथ ले गया गीता
– पंजाब में आईएसआई की करतूत का भंडाफोड़, जासूसी के आरोप में बीएसएफ जवान गिरफ्तार
– बांग्लादेशी युवक ने धर्मनिरपेक्षता पर लिखा ब्लॉग तो भड़के कट्टरपंथी, जान बचाकर आया भारत
– तलाक पर तेज प्रताप: सियासी फायदे के लिए कराई शादी, मैं उत्तर तो ऐश्वर्या दक्षिण ध्रुव

LEAVE A REPLY