बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली
बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली

मुंबई/भाषा। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने सोमवार को विराट कोहली को भारतीय क्रिकेट का सबसे अहम व्यक्ति करार दिया और कप्तान को सभी संभव समर्थन देने का वादा किया ताकि चीजें आसान हों, मुश्किल नहीं। बीसीसीआई अध्यक्ष पदभार संभालने के बाद गांगुली ने कहा कि वे गुरुवार को भारतीय कप्तान से बात करेंगे और आगे के बारे में चर्चा करेंगे।

गांगुली ने कहा, मैं कल उससे बात करूंगा। वह भारतीय टीम का कप्तान है और भारतीय क्रिकेट में सबसे अहम व्यक्ति है। मैं इसे इसी तरीके से देखता हूं। इसलिए हम उनसे बात करेंगे और जैसा कि मैंने कहा कि हम हर संभव तरीके से उनका समर्थन करेंगे, वह इस टीम को दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम बनाना चाहते हैं। पिछले तीन से चार वर्षों में जिस तरीके से टीम खेल रही है, उस लिहाज से यह टीम काफी शानदार रही है।

गांगुली ने कहा कि वह टीम प्रबंधन के साथ भी बातचीत करेंगे जिसमें मुख्य कोच रवि शास्त्री शामिल हैं। बीसीसीआई अध्यक्ष ने स्पष्ट कहा, यह पूर्ण चर्चा होगी और हर चीज के बारे में परस्पर चर्चा होगी लेकिन आश्वस्त रहिए, हम यहां चीजें आसान करने के लिए हैं, मुश्किल करने के लिये नहीं। हर चीज प्रदर्शन के आधार पर होगी।

उन्होंने कहा, प्रदर्शन सबसे अहम चीज है और हम भारतीय क्रिकेट के भविष्य पर फैसला करेंगे। विराट इस पूरे संदर्भ में सबसे अहम व्यक्ति है। हम उनका समर्थन करेंगे, हम उनकी बात सुनेंगे। मैं खुद भी कप्तान रह चुका हूं इसलिए मैं समझता हूं। आपसी सम्मान होगा, राय होंगी और चर्चाएं भी होंगी तथा हम वही करेंगे जो खेल के लिए सर्वश्रेष्ठ होगा।

गांगुली ने फिर से आईसीसी प्रतियोगिताओं में भारत के प्रदर्शन की बात करते हुए कहा, हां, आप कह सकते हैं कि उन्होंने विश्व कप (इंग्लैंड में) नहीं जीता लेकिन आप हर बार विश्व कप नहीं जीतते। हम उसका समर्थन करेंगे, वह जो भी चाहता है और हम सुनिश्चित करेंगे कि भारतीय क्रिकेट सुचारू रूप से आगे बढ़े।

विश्व कप के बाद रोहित शर्मा के वनडे कप्तान बनाए जाने की अटकलबाजियां शुरू हो गई थीं। गांगुली से जब अलग प्रारूपों में अलग कप्तान रखने की जरूरत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, मुझे नहीं लगता कि यह सवाल उठता है। भारत इस समय जीत रहा है। भारतीय टीम संभवत: दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम है।

दक्षिण अफ्रीका को मंगलवार को रांची में 3-0 से ‘व्हाइटवाश’ करने के बाद कोहली ने दर्शकों की अच्छी संख्या सुनिश्चित करने के लिए टेस्ट स्थलों को पांच तक सीमित करने की बात कही थी। इस बारे में पूछने पर गांगुली ने कहा, टेस्ट स्थलों के लिहाज से, हमारे पास काफी राज्य हैं, काफी स्थल हैं, इसलिए हमें उनके (कोहली के) साथ बैठना होगा और देखना होगा कि वह क्या चाहता है।

जहां तक टेस्ट मैचों के दौरान कम दर्शक आने का संबंध है तो गांगुली ने कहा कि इसके लिए प्रारूप में कुछ चीजें तालशने की जरूरत है। उन्होंने कहा, ये ही दर्शक आईपीएल में आते हैं जिसमें स्टेडियम खचाखच भरे होते हैं। इसलिए यह स्टेडियम से कहीं ज्यादा की बात है। टेस्ट क्रिकेट में कुछ बदलाव की जरूरत है कि इसे कैसे लोकप्रिय बनाया जा सकता है। ईडन गार्डन्स 22 नवंबर को बांग्लादेश की मेजबानी करेगा और हम नहीं जानते कि उस टेस्ट मैच में क्या होगा।

गांगुली ने कहा, लेकिन अगर आप आईपीएल मैच देखें तो लोग इतने जुनूनी रहते हैं। यही स्टेडियम होता है, यही सुविधाएं होती हैं। लोग काफी संख्या में इसे देखने आते हैं। इसका मतलब समस्या कहीं और है और साथ ही ढांचा भी होना चाहिए।