दक्षिण अफ्रीका को पारी के अंतर से हराकर भारत ने शृंखला अपने नाम की

बीसीसीआई द्वारा पोस्ट की गई तस्वीर
बीसीसीआई द्वारा पोस्ट की गई तस्वीर

पुणे/भाषा। अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारत ने दक्षिण अफ्रीका को दूसरे क्रिकेट टेस्ट में चौथे ही दिन रविवार को एक पारी और 137 रन से हराकर तीन मैचों की शृंखला में 2-0 की विजयी बढ़त बना ली।

दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज एक बार फिर भारत की दमदार गेंदबाजी के सामने घुटने टेकने को मजबूर हो गए। फालोआन खेलते हुए पूरी टीम 67.2 ओवर में 189 रन पर आउट हो गई। दक्षिण अफ्रीका को 2008 के बाद किसी टेस्ट शृंखला में फालोआन खेलने पर मजबूर करने वाली भारत पहली टीम बन गई।

इस जीत के बाद विश्व चैम्पियनशिप तालिका में भारत 200 अंक लेकर दूसरे स्थान पर काबिज न्यूजीलैंड से 140 अंक आगे है। वहीं बतौर कप्तान यह विराट कोहली का 50वां टेस्ट था और उनकी कप्तानी में अपनी धरती पर भारत ने यह लगातार 11वीं शृंखला जीती है जो विश्व रिकॉर्ड है।

तीसरा और आखिरी टेस्ट 19 अक्टूबर से रांची में खेला जाएगा। फालोआन खेलते हुए वेर्नोन फिलैंडर और केशव महाराज ने आखिर में जीत के लिए भारत का इंतजार लंबा कराने की कोशिश की लेकिन तेज गेंदबाज उमेश यादव ने 67वें ओवर में फिलैंडर (37) और कैगिसो रबाडा (चार) को पवेलियन भेजा।

इसके अगले ओवर में रविंद्र जडेजा ने दूसरी ही गेंद पर महाराज (22) को पगबाधा आउट किया। दक्षिण अफ्रीकी टीम ने रिव्यू लिया लेकिन फैसला गेंदबाज के पक्ष में रहा। पहली पारी में 275 रन बनाने वाली दक्षिण अफ्रीकी टीम दूसरी पारी में 189 रन पर आउट हो गई।

भारत ने अपनी पहली पारी पांच विकेट पर 601 रन (घोषित) की थी। दक्षिण अफ्रीका का शीर्षक्रम दूसरी पारी में भी नाकाम रहा। भारत के लिए जडेजा ने 21.2 ओवर में 52 रन देकर तीन, यादव ने आठ ओवर में 22 रन देकर तीन और रविचंद्रन अश्विन ने 21 ओवर में 45 रन देकर दो विकेट लिए। मोहम्मद शमी और ईशांत शर्मा को एक एक विकेट मिला।

लंच के बाद रविंद्र जडेजा ने क्विंटोन डिकाक (पांच) और तेम्बा बावुमा (38) को आउट किया। वहीं मोहम्मद शमी ने सेनुरान मुथुस्वामी (नौ) को पवेलियन भेजा।

सुबह के सत्र में डीन एल्गर ने 72 गेंद में 48 रन बनाकर अकेले किला लड़ाने की कोशिश की लेकिन रविचंद्रन अश्विन ने उन्हें पवेलियन भेजा। अश्विन आठ ओवर में आठ रन देकर दो विकेट ले चुके हैं।

पहली पारी में विकेट नहीं ले सके ईशांत शर्मा ने दूसरी ही गेंद पर एडेन मार्कराम (0) को पवेलियन भेजा। दूसरे छोर पर खड़े एल्गर से लंबी बातचीत के बाद मार्कराम ने रिव्यू नहीं लिया हालांकि टीवी रिप्ले से जाहिर था कि गेंद लेग स्टम्प के बाहर से जा रही थी।

पहली पारी में भी शानदार कैच लपकने वाले विकेटकीपर रिधिमान साहा ने थ्यूनिस डि ब्रून का एक और दर्शनीय कैच लपका। एल्गर और कप्तान फाफ डु प्लेसी (54 गेंद में पांच रन) ने 49 रन जोड़े। डु प्लेसी को अश्विन ने आफ ब्रेक पर आउट किया। वहीं एल्गर ने मिडआफ पर खड़े उमेश यादव को कैच थमाया।